DA Image
25 नवंबर, 2020|10:06|IST

अगली स्टोरी

रात का पारा पहुंचा 12 डिग्री सेल्सियस पर, बिना गर्म कपड़े के टहलना खतरनाक

default image

दिन-रात के तापमान में करीब 19 डिग्री सेल्सियस का अंतर है। मतलब दिन में गर्मी से पसीना छूट रहा है तो ओस से भीगी रात में ठंड का अहसास हो रहा है। गर्म दिन-ठंडी रात के दौर में जरा सेहत को लेकर सतर्क रहें। चिकित्सकों के मुताबिक, ऐसे मौसम में शुगर, हाईबीपी व हृदय रोगी के साथ-साथ एलर्जी बच्चे व बुजुर्ग बेहद सतर्क रहें। रात में सोते वक्त से लेकर टहलने के लिए निकलते वक्त तक गर्म कपड़े का इस्तेमाल करें।

वरीय फिजिशियन डॉ. ओबेद अली के मुताबिक, सुबह में ठंड का असर ज्यादा होने से जरा सी लापरवाही वायरल, फ्लू का बीमार बना सकती है। रात के पारे में 2.2 डिग्री सेल्सियस की वृद्धिबीते 24 घंटे के मौसम की बात करें तो इस दौरान दिन के तापमान में एक तो रात के तापमान में 2.2 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि हुई। मौसम विभाग सबौर के अनुसार, रविवार को अधिकतम तापमान 31.8 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 12.0 डिग्री सेल्सियस रहा। हालांकि भारतीय मौसम विभाग भागलपुर ने रविवार को अधिकतम तापमान 33.0 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 21.1 डिग्री सेल्सियस बताया। सुबह साढ़े आठ बजे 82 प्रतिशत रही आर्द्रता शाम साढ़े पांच बजे तक घटकर 74 प्रतिशत पर आ गयी। जबकि दिन भर 3.2 किमी प्रति घंटे की औसत रफ्तार से उत्तर-पूर्वी हवा बही। मौसम वैज्ञानिक डॉ. बीरेंद्र कुमार ने बताया कि अगले तीन दिन तक मौसम साफ रहेगा। रात से लेकर सुबह तक हल्की ओस पड़ेगी। दिन-रात के तापमान में आधे से डेढ़ डिग्री सेल्सियस की कमी आ सकती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nighttime mercury reaches 12 degrees Celsius walking without hot clothes is dangerous