DA Image
23 नवंबर, 2020|10:46|IST

अगली स्टोरी

चुनाव में 25 हजार से अधिक कर्मी और अफसरों की जरूरत

default image

विधानसभा चुनाव21 हजार पांच सौ अफसर और कर्मियों की डाटा इंट्री हो पायी हैपिछले चुनाव से इस बार 1093 मतदान केन्द्रों की संख्या बढ़ायी गयी भागलपुर, वरीय संवाददातामतदान केन्द्रों की संख्या बढ़ने से मतदानकर्मियों का संकट हो सकता है। मतदान के लिए 25 हजार से अधिक पदाधिकारी और कर्मियों की जरूरत है। कोरोना संक्रमण के चलते पिछले चुनाव से इस बार 1093 मतदान केन्द्रों की संख्या बढ़ायी गयी है। अभी तक कार्मिक कोषांग को 21 हजार 500 अफसर और कर्मियों की सूची प्राप्त हुई है। हालांकि कुछ विभागों द्वारा अभी सूची नहीं भेजी गयी है। डीएम ने संबंधित विभागों को पत्र भेजकर कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। स्थापना शाखा के प्रभारी सह एसएफसी के जिला प्रबंधक गुलाब हुसैन ने बताया कि इस बार अधिक संख्या में अफसर और कर्मियों की जरूरत है। सभी विभागों से सूची मिलने के बाद स्थिति साफ हो पायेगी। कर्मियों के प्रशिक्षण को जगह की खोजजिले में मास्टर ट्रेनरों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। अब मतदान पदाधिकारी और कर्मियों को प्रशिक्षण देना है। इसके लिए प्रशिक्षण कोषांग कार्यक्रम तैयार कर रहा है। सबसे बड़ी समस्या प्रशिक्षण के लिए जगह को लेकर हो रही है। कोरोना संक्रमण के चलते सामाजिक दूरी का पालन करना अनिवार्य है। कोषांग के अफसर जिले के सरकारी भवनों, स्कूल और कॉलेज का सर्वे कर रहे हैं। अभी तक जगह तय नहीं होने से प्रशिक्षण का कार्यक्रम घोषित नहीं किया गया है। पोलिटेक्निक में चार और आईटीआई में तीन विधानसभा का प्रस्तावकार्यपालक अभियंता को नक्शा और प्राक्कलन बनाने को कहा गयाभागलपुर, वरीय संवाददाताराजकीय पोलिटेक्निक कॉलेज में चार और महिला आईटीआई के भवन में तीन विधानसभा क्षेत्र का बज्रगृह और मतगणना केन्द्र बनाने की तैयारी है। जांच टीम ने प्रस्ताव डीएम को सौंप दिया है। बज्रगृह और मतगणना केन्द्र का चयन करने के लिए डीएम ने एडीएम की अध्यक्षता में टीम का गठन किया था। टीम ने शहर के विभिन्न भवनों का निरीक्षण करने के बाद प्रस्ताव दिया है। राजकीय पोलिटेक्निक कॉलेज के मुख्य भवन में तीन और पीछे वाले भवन में एक विधानसभा क्षेत्र का बज्रगृह और मतगणना केन्द्र बनाया जाएगा। महिला आईटीआई में तीन विधानसभा का बज्रगृह और मतगणना केन्द्र बनाया जाएगा। महिला आईटीआई में पीरपैंती, कहलगांव और सुल्तानगंज विधानसभा क्षेत्र तथा पोलिटेक्निक कॉलेज में गोपालपुर, नाथनगर और भागलपुर विधानसभा क्षेत्र का तथा पोलिटेक्निक के पीछे वाले भवन में बिहपुर विधानसभा क्षेत्र का बज्रगृह और मतगणना केन्द्र का प्रस्ताव दिया गया है। भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता को नक्शा और प्राक्कलन तैयार करने को कहा गया है। उप निर्वाचन पदाधिकारी श्वेता कुमारी ने बताया कि आयोग से स्वीकृति मिलने के बाद ही अंतिम रूप दिया जाएगा। जल्द ही प्रस्ताव भेजा जाएगा। डीसीएलआर सदर और कहलगांव के ट्रांसफर होने से दो निर्वाची पदाधिकारियों का पद रिक्त हो गया है। उप निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि अगर जल्द दोनों पद पर अधिकारी नहीं आए तो पत्र भेजा जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:More than 25 thousand personnel and officers needed in elections