DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  भागलपुर  ›  मायागंज अस्पताल को मिला 100 वॉयल एंफोटेरिसिन बी का इंजेक्शन

भागलपुरमायागंज अस्पताल को मिला 100 वॉयल एंफोटेरिसिन बी का इंजेक्शन

हिन्दुस्तान टीम,भागलपुरPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:20 AM
मायागंज अस्पताल को मिला 100 वॉयल एंफोटेरिसिन बी का इंजेक्शन

भागलपुर, कार्यालय संवाददाता

36 घंटे तक मायागंज अस्पताल में भर्ती ब्लैक फंगस (म्यूकोरमाइकोसिस) के मरीजों को बिना इंग्जेक्शन के ही तरसना पड़ा। मंगलवार को दोपहर बाद जब पटना से 100 वॉयल एंटीफंगल इंजेक्शन लाइपोसोमल इंफोटेरिसिन बी पहुंचा और मरीजों को लगाया गया, तब जाकर मरीजों को राहत मिली। हालांकि बीते 36 घंटे तक जब तक ब्लैक फंगस के मरीजों को इंजेक्शन नहीं लगा था, तब तक डॉक्टरों ने उनका किडनी फंक्शन टेस्ट व लीवर फंक्शन टेस्ट कराया, ताकि मरीजों को इलाज में बाधा होने संबंधी तनाव न हो सके।

वहीं चिकित्सकों का तर्क था कि ये जांच इसलिए जरूरी था कि कहीं एंटीफंगल इंजेक्शन के कारण मरीजों के किडनी व लीवर पर नकारात्मक प्रभाव तो नहीं पड़ रहा है। ऐसा होता तो पहले किडनी व लीवर का इलाज चलता, तब उनके ब्लैक फंगस का इलाज चलता। गौरतलब हो कि मायागंज अस्पताल में आज की तारीख में सात ब्लैक फंगस के मरीजों का इलाज चल रहा है। इनमें से कुछ ऐसे मरीज हैं, जिनके आंख या नाक के अंदरूनी हिस्से का ऑपरेशन करना जरूरी है। लेकिन अस्पताल प्रशासन द्वारा अब तक ऑपरेशन की सुविधा न शुरू किये जाने के कारण इनकी जान पर बनी हुई है। चिकित्सकों का कहना है कि अगर इनका ऑपरेशन नहीं हुआ तो इन्हें पटना के लिए रेफर करना पड़ेगा। वहीं अस्पताल अधीक्षक डॉ. असीम कुमार दास ने कहा कि मशीन की खरीद को लेकर सरकार को पत्र भेज दिया गया है। अगर वहां से मशीन नहीं मिलता है तो स्थानीय स्तर पर मशीन की खरीददारी की जायेगी।

संबंधित खबरें