DA Image
31 मई, 2020|1:05|IST

अगली स्टोरी

सहरसा के रानीबाग में बोले कन्हैया, जिसे देश की जिम्मेवारी मिली वही संविधान को खतरे में डाल रहे हैं- VIDEO

jnu alumni president kanhaiya kumar joined indefinite dharna against caa nrc and npr in saharsa

सीएए और एनआरसी लाकर केंद्र सरकार लोकतंत्र की बुनियाद पर हमला कर रही है। शहादतों के बाद हमें जो आजादी मिली उस पर हमला किया जा रहा है। दुखद पहलू यह कि जिसे देश की जिम्मेवारी मिली वही संविधान को खतरे में डाल रहे हैं। यह बात जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया ने सहरसा के सिमरी बख्तियारपुर में कही।

वे सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर नगर पंचायत के रानी बाग स्थित मैदान में सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में संविधान बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले 18 दिनों से चल रहे अनिश्चितकालीन धरना में गुरुवार को जेएनयू के पूर्व छात्र अध्यक्ष कन्हैया कुमार शामिल होने पहुंचे थे। 

इस दौरान धरना को संबोधित करते कन्हैया ने कहा कि मेरी लड़ाई नेता बनने या बनाने के लिए नहीं संविधान बचाने के लिए है। विकास, रोजगार, काला धन वापसी कर 15 लाख देने सहित किए गए अन्य वादे से भटकाने के लिए सीएए, एनआरसी और एनपीआर लाया गया है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार सरकारी संपत्ति को निजीकरण कर बेचने पर आमादा है। इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे और देश की संस्कृति बचाने, बिजली, स्वास्थ्य, सड़क, शिक्षा सहित अन्य विकास के मुद्दे को लेकर 29 फरवरी को पटना में जोरदार प्रदर्शन करेंगे। 

सिमरी बख्तियारपुर के बाद सहरसा के लिए कन्हैया को कड़ी सुरक्षा के बीच सहरसा के पटेल मैदान में सभा करने ले जाया जा रहा है। इधर सहरसा शहर में कन्हैया के सिमरी बख्तियारपुर से पहुंचने से पहले वीर कुंवर सिंह चौक पर संगठनों से जुड़े युवा विरोध करने जुटे थे। जिसे प्रशासन ने वहां से हटा दिया। अब युवा थाना चौक पर जुटे हैं। 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:JNU alumni president Kanhaiya Kumar joined 18th day indefinite dharna under banner of samvidhan bachao sangharsh samiti against CAA NRC and NPR in grounds in Rani Bagh of Simri Bakhtiyarpur Nagar Panchayat in Saharsa district and Attack on Modi government