DA Image
20 जनवरी, 2021|4:40|IST

अगली स्टोरी

कटिहार जिले में सर्दी, खांसी व बुखार के बढ़े मरीज

कटिहार जिले में सर्दी, खांसी व बुखार के बढ़े मरीज

कटिहार | निज प्रतिनिधि

बदलते मौसम से जन जीवन अस्त व्यस्त है। सुबह खिली धूप और शाम में क केहरे की धमक से सर्दी-खांसी और मौसमी बीमारी की संख्या में इजाफा हुआ है। अलग अलग दिन पारा के लुढ़कने से सुबह और शाम कनकनी बढ़ी है। सदर अस्पताल में इन दिनों ओपीडी में मरीजों की संख्या बढ़ी है। पूर्व में तीन सौ के आसपास पहुंच रहे थे।

अब 350 के करीब पहंुचने के बाद इलाज कराने के बाद घर लौट जा रहे हैं। हालांकि गुरुवार को मरीजों की संख्या में कमी रही। ठंडी को देखते हुए मरीज अस्पताल कम आ रहे हैं। जनवरी के बाद फरवरी में बढ़ने की उम्मीदे हैं। स्कीन डिजिज, सर्दी, बुखार, पेट की समस्या ,सुगर एवं ब्लड प्रेसर की दवाई उपलब्ध है। सदर अस्पताल में नये भवन निर्माण के लिए पुराने भवनों के तोड़फोड़ होने से इलाज कराने वाले मरीज यत्र तत्र भटकने को विवश हैं। निबंधन पर्ची से पर्ची कटाकर डॉक्टरों की खोजबीन करने के बाद कई मरीज बिना इलाज कराये निजी नर्सिंग होम में कराने को विवश हैं। जो मरीज पूर्व से भर्ती हैं उनको मुकम्मल व्यवस्था नहीं होने से परेशान हैं। भर्ती रोगी अस्पताल प्रबंधन पर सवाल उठाने से नहीं चुक रहे हें। कई मरीजों का कहना है कि ठंड बढ़ी नहीं बढ़ी तो सदर अस्पताल में व्यवस्था। नियम के अनुसार समय पर न तो बेड की चादरों की बदली होती है न ही ठंड से बचाव के लिए कम्बल की मुकम्म्ल व्यवस्था की चर्चा करना बेईमानी होगी। जिससे मरीज ठंड में घर से लाये चादर व कम्बलों के सहारे रात गुजारने को विवश हैं। सेमापुर टापू दियारा के अक्षय कुमार दो दिन से हैं अस्पताल में इलाज करा रहे हैं कम्बल नहीं मिला है। चादर नहीं बदला गया है। चिकित्सक भी समय समय पर चेकेअप को नहीं आने से परेशान हैं। बरारी के दीपनारायण यादव कहते हैं पन्द्रह दिन हो गया मीनू के अनुसार कुछ उपलब्ध नहीं कराया जाता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Increased patients of cold cough and fever in Katihar district