Hundreds of acres of paddy drown in Supaul due to increase of water of kosi river - बिहार: कोसी नदी का बढ़ा जलस्तर, सैकड़ों एकड़ में लगी धान की फसल डूबी DA Image
12 नबम्बर, 2019|11:43|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार: कोसी नदी का बढ़ा जलस्तर, सैकड़ों एकड़ में लगी धान की फसल डूबी

Hundreds of acres of paddy drown in koshi river in Supaul

नेपाल के तराई क्षेत्र में भारी बारिश होने के कारण कोसी नदी के जलस्तर में वृद्धि हो गयी है।  इससे पूर्वी कोसी तटबंध के अंदर दो नदी के बीच बसे हुए दर्जनों गांव में बाढ़ का पानी फैल गया है। इस क्षेत्र में सैकड़ों एकड़ में लगी धान की फसल बर्बाद हो गयी है।

तटबंध के अंदर के लोगों को आवागमन की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गयी है। पूर्वी कोसी तटबंध के अंदर लौकहा, कवियाही, उग्रीपट्टी, कड़हरी, तकिया, बहुअरवा, बनैनिया, ढ़ोली, सनपतहा, गौरीपट्टी, गिरधारी, कटैया, भुलिया, सियानी आदि गांवों में बाढ़ के पानी फैलने से लोगों को परेशानी हो रही है।

ग्रामीणों का कहना है कि सरकारी स्तर पर नाव की सुविधा नहीं मिलने से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। तटबंध के अंदर रहने वाले लोग तटबंध के बाहर से ही घरेलू सामग्री सहित मजदूरी करने के लिए आते-जाते हैं। इधर, सीओ शरत कुमार मंडल का कहना है कि कोसी नदी के जलस्तर में वृद्धि हुई थी। लेकिन कोसी नदी के जलस्तर में कमी हो रही है।

लोगों के आवागमन की सुविधा के लिए तटबंध के अंदर सभी पंचायतों में सरकारी स्तर पर नाव की व्यवस्था की जाएगी। सीओ ने बताया कि तटबंध के अंदर फिलहाल अभी किसी भी प्रकार का खतरा नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hundreds of acres of paddy drown in Supaul due to increase of water of kosi river