DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार भागलपुरमित्रता श्रीकृष्ण व सुदामा की तरह होनी चाहिए: अनुराग

मित्रता श्रीकृष्ण व सुदामा की तरह होनी चाहिए: अनुराग

हिन्दुस्तान टीम,भागलपुरNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 10:41 PM
मित्रता श्रीकृष्ण व सुदामा की तरह होनी चाहिए: अनुराग

भागलपुर। वरीय संवादाता

बाल व्यास अनुराग कृष्ण ने कहा कि हमारा मित्रता श्रीकृष्ण व सुदामा की तरह होनी चाहिए। जिस प्रकार से आंखों से आंसू बहते हैं तो उसे पहुंचने के लिए सबसे पहले हाथ उठता है उसी प्रकार अपने मित्र के दुख में हमें सहायता के लिए तैयार रहना चाहिए। रविवार को मंदरोजा स्थित खाटू श्याम मंदिर में श्रीमद्भावत कथा के दौरान उन्होंने कहा कि समस्त सांसारिक प्राणी अपने-अपने कर्मों के फलस्वरूप कई प्रकार के दुखों को भोगने के लिए जन्म लेते हैं। इनसे मुक्त होने के लिए हमें श्रीमद् भागवत कथा का अनुसरण करना चाहिए। मौके पर गायक चेतन चौबे, रविराज ने भजन सुनाये। मुख्य यजमान सज्जन चोखानी, कुसुम देवी चोखानी, गीता देवी, अरुण चोखानी आदि मौजूद थे।

जीवन को साधना के रूप में अपनाने: अर्चना

कथावाचिक अर्चना कुमारी सिंह ने कहा कि जीवन में मधुरता लाने के लिए जीवन को साधना के रूप में अपनाने की आवश्यकता है। जीवन परमात्मा से अलग हो गया है और संसार के सुख ने इसे नष्ट भ्रष्ट कर दिया है। न्यू विक्रमशिला कॉलोनी में रविवार को श्रीमद्भागवत कथा सप्ताह के दौरान उन्होंने कहा कि मनुष्य का जन्म सहज होता है लेकिन मनुष्यता कठिनाई से प्राप्त होती है। मनुष्य को अच्छा कर्म करना चाहिए जिससे सदा प्रभु की कृपा बरसती रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें