DA Image
6 दिसंबर, 2020|7:30|IST

अगली स्टोरी

पीरपैंती प्रखंड में मिले कालाजार के चार मरीज

default image

जिले के 13 प्रखंडों में कालाजार रोगियों की पहचान के लिए डोर टू डोर सर्वे का काम पूरा हो गया है। इस अभियान में सिर्फ पीरपैंती प्रखंड में ही इलाजरत कालाजार के चार मरीजों की पहचान हुई। हालांकि अभी इनकी जांच की जानी बाकी है।

सन्हौला प्रखंड में कालाजार के लक्षण वाले सात से आठ लोग चिह्नित हुए थे लेकिन जांच में इनमें कालाजार की पुष्टि नहीं हुई। जिला वेक्टर बोर्न डिजीज कंट्रोल ऑफिसर डॉ. कुंदन भाई पटेल ने बताया कि 25 अगस्त से लेकर दो सितंबर तक जिले के 13 प्रखंड में आशा कार्यकर्ताओं द्वारा डोर टू डोर कालाजार मरीजों की पहचान को लेकर सर्वे किया गया। इसमें केयर इंडिया ने भी सहयोग किया।

इस अभियान के बाद स्वास्थ्य विभाग अब गांवों में नाली-गली, नालों व घरों की में सिथेटिक पाराथायराइड का छिड़काव करेंगे। उन्होंने लोगों से अपील की है कि बीमारी से बचाव के लिए घर के आसपास जलजमाव नहीं होने दें। यदि जलजमाव की स्थिति है तो उसमें केरोसिन डालें। सोते समय मच्छरदानी लगाएं, साथ ही बच्चों को पूरा कपड़ा पहनायें व शरीर पर मच्छर रोधी क्रीम लगाएं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Four patients of Kala-azar found in Pirpainti block