DA Image
29 फरवरी, 2020|5:08|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भागलपुर के फॉरेंसिक लैब को 12 करोड़ रुपये से बनाया जाएगा आधुनिक, वैज्ञानिकों के भी बनेंगे आवास

भागलपुर के नाथनगर स्थित सीटीएस के फॉरेंसिक लैब को आधुनिक बनाया जाएगा। यहां वैज्ञानिकों के लिए आवास भी बनाए जाएंगे। इसके लिए पुलिस भवन निर्माण निगम को सरकार ने 12 करोड़ की राशि मंजूर कर टेंडर का आदेश दिया है।
 
भागलपुर फोरेंसिक लैब में पूर्व बिहार और कोसी क्षेत्र के 16 जिलों को शामिल किया गया है। बीते साल नवंबर में एडीजी ने लैब का उद्घाटन किया था और अबतक सौ से अधिक एफएसएल रिपोर्ट जिलों को भेजी जा चुकी है। लैब से जुड़े सभी जिलों को मोबाइल वैन उपलब्ध कराया गया है। लैब में अलग-अलग विषयों से जुड़े निदेशक समेत 17 वैज्ञानिकों की पोस्टिंग हुई है। 

लैब में जांच के लिए आधुनिक उपकरण लगाए गए हैं लेकिन मार्च के बाद इसे मानक के अनुसार और सुसज्जित किया जाएगा। लैब में बैलेस्टिक, विस्फोट, ब्लड, बीसरा, शराब, स्वाब और बालों की जांच के लिए उपकरण लगाए गए हैं। फिंगर प्रिंट्स, मादक पदार्थ व डीएनए जांच के लिए भी सरकार ने निर्देश जारी कर दिया है। गोली के पिलेट की जांच के लिए फायरिंग हॉल बनेगा। इसकी डिजाइन तैयार कर ली गयी है। पुलिस भवन निर्माण निगम के कार्यपालक अभियंता मुकेश कुमार ने कहा कि लैब के आधुनिकीकरण के लिए जल्द टेंडर कराकर निर्माण कार्य शुरू कराया जाएगा।
 
सप्ताह से महीने दिन में बन रही रिपोर्ट
वैज्ञानिकों के मुताबिक दुष्कर्म से जुड़े स्वाब की जांच रिपोर्ट सप्ताह दिन और अन्य रिपोर्ट एक महीने के अंदर तैयार की जा रही है। रिपोर्ट तैयार होते ही संबंधित कोर्ट को मेल से सूचना भेजी जा रही है। भागलपुर रेंज से जुड़े पटना में लंबित रिपोर्ट यहां ट्रांसफर नहीं किये जाएंगे। सभी रिपोर्ट कोर्ट के आदेश से लैब में भेजी जाती है। पास्को से जुड़े रिपोर्ट की हाईकोर्ट के स्तर से समीक्षा की जाती है इसलिए सप्ताह दिन में रिपोर्ट तैयार की जा रही है। पटना लैब में भेजे गए भागलपुर जिले के 37 मामले की रिपोर्ट एक साल या उससे अधिक समय से लंबित है। कोर्ट ने इसके लिए निदेशक से शोकॉज भी किया है। 

लैब में अपराध से जुड़े सात प्रकार की जांच शुरू हो गई है। समय पर रिपोर्ट तैयार की जा रही है। लैब में वैज्ञानिकों की पोस्टिंग भी हो गई है। जल्द ही इसको और आधुनिक बनाया जाएगा। वैज्ञानिकों का आवास भी तैयार हो जाएगा। - अवनीकांत त्रिवेदी, प्रभारी निदेशक, एफएसएल भागलपुर
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Forensic lab of CTS Nathnagar of Bhagalpur will be made modern from 12 crores rupees Houses of scientists will also be built