DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हार्डकोर नक्सली नरेश दास सहित पांच  नक्सलियों ने जमुई कोर्ट में किया सरेंडर

naxal, jharkhand

कई नक्सली कांडों का आरोपी और हार्डकोर नक्सली नरेश दास सहित पांच नक्सलियों ने सोमवार को गुपचुप तरीके से जमुई न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। कथित नक्सलियों के समर्पण करने की खबर पुलिस को भी नहीं लग सकी।

सीजेएम के न्यायालय में सरेंडर करने वाले नरेश दास के अलावा सरफुद्दीन अंसारी, हरी यादव, महेज जी व एक अन्य है जिसके नाम का पता नहीं चल सका। नरेश दास सोनो थाना के रजौन गांव का रहने वाला है जबकि बाकी नक्सली चरकापत्थर थाना क्षेत्र के रहने वाले बताये जाते हैं।

11 दिसंबर 2016 को चरकापत्थर के झारो पहाड़ी से पुलिस को तीन सिलेंडर बम, जिलेटिन, डेटोनेटर, तार और नक्सली पर्चा मिले थे। इस मामले में नरेश दास आरोपी था। पुलिस नरेश की गिरफ्तारी के लिए काफी प्रयास कर रही थी। सरेंडर करने के उपरांत उसने बताया कि दबंगों ने उसकी भाभी को घर से उठा लिया था।

इसी घटना के बाद वह संगठन के लोगों से बात कर जुड़ गया था। उसने बताया कि अब पुलिस गरीबों को न्याय दे रही है। अत्याचारियों पर कार्रवाई कर रही है। ऐसे में पुलिस पर भरोसा बढ़ा और मैंने आत्मसमर्पण करने का रास्ता चुन लिया। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Five Maoists including Hardcore Naxalites Naresh Das surrender in Jamui Court