DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीन मासूम बच्चों संग गर्भवती महिला की गला रेतकर हत्या का खौफनाक सच

creepy truth of murder of throats of pregnant womans throats with three innocent children

अररिया में बदमाशों ने आठ माह की गर्भवती महिला और उसके तीन मासूम बच्चों की गला रेतकर हत्या कर दी। हत्या का कारण जमीन विवाद बताया जा रहा है। हालांकि पुलिस जांच के बाद ही कुछ भी कहने की बात कर रही है। 

घटना बैरगाछी ओपी क्षेत्र की अररिया बस्ती पंचायत के वार्ड दो पूरब टोला माधोपाड़ा गांव में गुरुवार देर रात को घटी। शु्क्रवार को पुलिस ने शवों का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया। मामले में मृतका के पति मो. आलम ने पोखरिया पंचायत के वार्ड चार निवासी मुमताज उर्फ मन्तु के पुत्र मो. आलम व आरिफ तथा मो. इसहाक के पुत्र जैनुद्दीन व नौशाद के खिलाफ केस दर्ज कराया है।

हत्यारे घर की खिड़की से कूदकर फरार हो गये 
माधोपाड़ा निवासी मो. आलम ने बताया कि गुरुवार रात वह अपनी गर्भवती पत्नी व तीन बच्चों के साथ सो रहा था। रात करीब साढ़े ग्यारह बजे वह घर का दरवाजा खोलकर शौच के लिए बाहर निकला। इसी बीच लगभग आधा दर्जन बदमाश घर में घुस आये। बदमाशों ने उसकी गर्भवती पत्नी तबस्सुम(30), उसके आठ वर्षीय पुत्र शब्बीर, छह वर्षीय पुत्री आलिया तथा चार वर्षीय पुत्र समीर की गला रेतकर हत्या कर दी। हो-हल्ला के बाद जब मो. आलम शौचालय से निकला तो दौड़कर गांव में हल्ला मचाने लगा। जबतक भीड़ जमा होती बदमाश घर की खिड़की से कूदकर फरार हो गये थे। लोगों ने इसकी सूचना बैरगाछी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही बैरगाछी, ताराबाड़ी, मदनपुर, महलगांव सहित विभिन्न थानों से बड़ी संख्या में पुलिस माधोपाड़ा गांव पहुंच गई।

पूरे कमरे में खून फैला हुआ था
कुछ ही देर बाद एसपी धुरत सायली, एसडीपीओ केडी सिंह, सर्किल इंस्पेक्टर बैद्यनाथ शर्मा ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर जायजा लिया और उस कमरे को सील करवा दिया जहां हत्या की गई। पूरे कमरे में खून फैला हुआ था। रात में ही पुलिस ने शक के आधार पर बैरगाछी ओपी क्षेत्र की पोखरिया पंचायत के वार्ड चार निवासी मुमताज उर्फ मन्तु के पुत्र आरिफ, गयासुद्दीन के पुत्र कुर्बान तथा जैनुद्दीन के पुत्र मजीद को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। प्रथम दृष्टया मामला भूमि विवाद से संबंधित माना जा रहा है। लंबे समय से मो. आलम का पोखरिया पंचायत के कुछ लोगों के साथ जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। हालांकि पुलिस मृतका के पति मो. आलम की गतिविधि पर भी पैनी नजर बनाये हुए है। डॉग स्क्वायड की टीम ने भी घटनास्थल और आरोपियों के घर में छानबीन की है।

घटना के संबंध में एसपी धुरत सायली ने कहा कि जिन लोगों का नाम आ रहा है, उसके साथ पहले से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। पुलिस सभी बिन्दुओं पर जांच कर रही है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Creepy truth of murder of throats of pregnant womans throats with three innocent children