अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VIDEO: दहेज की भेंट चढ़ी पुलिसवाले की पत्नी, गुस्साए लोगों ने 5 घंटे जाम रखा एनएच

brutal murder of policeman wife at bhagalpur for dowry

1 / 2विवाहिता की हत्या पर सड़क जाम किए लोगों को समझाती पुलिस।

brutal murder of policeman wife at bhagalpur for dowry

2 / 2विवाहिता के शव को हाईवे पर रखकर जाम लगाए लोग।

PreviousNext

नाथनगर(भागलपुर) में एक और विवाहिता चढ़ी दहेज की बेदी पर। दरअसल दहेज के लिए विवाहिता को उसके ससुरालवालों ने एसिड पिलाकर बेरहमी से मार डाला।

नाथनगर हजारी साह लेन के रहने वाले सतीश रजक की बेटी रजनी देवी (26वर्ष) की शादी तीन मार्च 2014 को अकबरनगर इंग्लिश चीचरौंन गांव के बिहार पुलिस के जवान धर्मवीर भाष्कर के साथ हुई थी। वर्तमान में धर्मवीर भाष्कर की पोस्टिंग मुंगेर जिले में है। आरोप है कि उसके ससुराल वालों ने उसे बीते 31 मार्च को एसिड पिला दिया। हालत गंभीर होने पर उसे मायागंज अस्पताल में छोड़कर भाग गए। वहां से उसे पटना रेफर किया गया जहां उसकी मौत हो गई।

 गुस्साए परिजनों के साथ मिलकर स्थानीय लोगों ने ससुराल वालों की गिरफ्तारी और दरिंदगी की सजा के लिए मंगलवार को मृत बेटी के शव को सुबह नौ बजे मनसकामनानाथ चौक के पास भागलपुर-सुल्तानगंज एनएच 80 पर रखा और बांस बल्ला लगाकर टायर जलाकर सड़क जाम कर दिया। गुस्साए लोग करीब पांच घंटे तक अकबरनगर थाना अध्यक्ष विकास कुमार और पुलिस प्रशासन के विरोध में जमकर नारेबाजी की।

घटना की जानकारी मिलते ही नाथनगर इंस्पेक्टर दलबल के साथ पहुंचे लेकिन किसी भी पुलिस अफसरों की बातों को लोगों ने नही सुना।  मामले की जानकारी पाकर ला एंड आर्डर डीएसपी राजेश कुमार सिंह प्रभाकर भी पहुंचे और लोगों को मनाने की कोशिश की लेकिन लोगों ने उनकी बात भी नही सुनी। दोपहर दो बजे के करीब डीएसपी ने परिजनों को जल्द ही आरोपी दामाद और ससुरवालों की गिरफ्तारी और विवाहिता के बच्चे को भी वापस दिलाने का भरोसा दिया। इसके बाद लोग माने और शव को दाह संस्कार के लिए ले गए। 
 

थाना से भगाने का आरोप
मृत बेटी की मां नीलम देवी ने बताया कि बेटी की शादी दान दहेज देकर की थी लेकिन शादी के छह माह बाद ही बेटी को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था। मृत रजनी के मामा दीपनारायण रजक ने बताया कि बेटी की मौत की शिकायत करने वे अकबरनगर थाना पर परिजनों के साथ गए थे जहां थानाध्यक्ष विकास कुमार ने दामाद का पक्ष लेते हुए कहा कि आपकी बेटी ने खुद एसिड पी ली होगी। उसे कोई क्यों मारेगा। इतना कहकर उन्होंने उन्हें थाना से बाहर जाने को कह दिया।  

10 लोगों पर दर्ज होगा नामजद मुकदमा
नाथनगर इंस्पेक्टर ने बताया कि कई लोगों ने इस सड़क जाम में उपद्रव किया है। इसमें 10 लोगों को चिन्हित कर सरकारी काम मे बाधा पहुंचाने का केस दर्ज किया जाएगा। सड़क जाम करना गैर कानूनी काम है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:brutal murder of policeman wife at bhagalpur for dowry