DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भागलपुर में खरीक रेलवे स्टेशन पर मॉर्निंग वॉक कर रही महिला को बदमाशो ने गोलियों से भूना

woman shot dead during morning walk in kharik railway station by criminals

भागलपुर के खरीक स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या एक पर मंगलवार की अल सुबह करीब पांच बजे नयाटोला, भवनपुरा निवासी झिगरू साह की पत्नी सुनीता देवी (50) को बदमाशों ने गोलियों से भून दिया। महिला के सिर में दो, पीठ एवं जांघ में एक-एक गोली लगी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।
 
सुबह के समय टहलने के दौरान बदमाशों ने इस घटना को अंजाम दिया। मामले की जानकारी पर इंस्पेक्टर एसएन चौहान नवगछिया, जीआरपी थानाध्यक्ष शत्रुघ्न प्र., झंडापुर ओपी प्रभारी पंकज कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस को घटनास्थल पर से तीन खोखा बरामद किया एवं शव को कब्जे में लेकर अनुमंडल अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेजा। रेल डीएसपी आलोक कुमार अस्पताल पहुंचकर परिजनों से घटना को लेकर पूछताछ की एवं घटनास्थल पर जाकर जांच-पड़ताल की। मामले को लेकर परिजन कुछ भी बताने से इंकार कर रहे हैं। 
 मृतक के पति ने बताया कि करीब दो वर्ष पूर्व पड़ोस के ही कुख्यात पप्पू यादव एवं उसके घर के सदस्यों द्वारा हमारी पत्नी को डायन बताकर मारपीट की गयी थी। पुत्र अशोक कुमार के बयान पर गांव के ही कुख्यात पप्पू यादव, गौरव यादव एवं सिन्टू यादव पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। 

सभी आरोपियों का आपराधिक इतिहास रहा है। यह जानकारी रेल थाना प्रभारी शत्रुघ्न   प्रसाद राय ने दी। वहीं पप्पू, गौरव, सिंटू समेत बच्ची यादव, मंगलू साह एवं नंदकिशोर साह पर पूर्व से ही महिला को डायन कहकर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया गया है। रेल डीएसपी आलोक कुमार ने बताया कि परिजन कुछ भी स्पष्ट नहीं बता रहे हैं। आवेदन के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। 

बदमाशों के भय से महिला गांव से कर गई थी पलायन
कोसी नदी में हुए कटाव में सबकुछ गंवाने के बाद भवनपुरा से बड़ी संख्या में आबादी खरीक स्टेशन के समीप आकर बस गई थी। सुनीता देवी भी विस्थापित परिवार की है। इसके पड़ोसी कुख्यात पप्पू यादव के छोटे छोटे भतीजा एवं भतीजी की वर्ष 2018 में तबियत खराब हो गई थी। जिसका आरोप सुनीता पर परिवार वालों द्वारा लगाया गया एवं इस बात से आक्रोशित होकर पप्पू ने महिला के घरपर चढ़ कर गोलीबारी भी की थी। भयवश महिला गांव छोड़कर बाहर चली गई।

माहौल शांत होने पर अपने घर आई। महिला का धर्म के प्रति काफी आस्था थी एवं गांव में घूम-घूम कर लोगों के बीच धर्म एवं ईश्वर की भक्ति का गुणगान सुनाती थी। इस दौरान रास्ते में जहां भी सुनीता मिलती पप्पू गाली-गलौज करते हुए गांव से भाग जाने के लिए कहता था। वह सांस (दम्मा) की बीमारी से पीड़ित थी। डॉक्टर के परामर्श से प्रतिदिन स्टेशन पर सुबह में टहलती थी।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गांव आयोजित एक भोज में सभी कुख्यात शामिल हुए थे एवं वहीं से इस हत्या की रणनीति तैयार हुई एवं टहलने के दौरान कुख्यात पप्पू यादव ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर महिला को गोली से छलनी कर दिया। शरीर में लगी गोली से प्रतीत होता है कि उसे पीछे से गोली मारी गई है। वहीं मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। उसे दो पुत्र एवं तीन बेटी है। इस घटना के बाद से स्टेशन पर मौजूद कर्मियों में भय व्याप्त है। 

कुख्यात पप्पू यादव पर है इनाम घोषित
कुख्यात पप्पू यादव पर विभिन्न थानों में हत्या, लूट, आर्म्स एक्ट समेत कई संगीन मामले दर्ज हैं। लंबे समय से यह पुलिस की पकड़ से फरार है। इसकी गिरफ्तारी को लेकर एसपी कार्यलय द्वारा पांच हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया। इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस एसटीएफ से भी सहयोग लेने को विचार कर रही है। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bhagalpur: woman shot dead during morning walk in kharik railway station by criminals