DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भागलपुर में बाबा के आश्रम से लापता महिला लौटी, जानिए घटना की पूरी सच्चाई

bhagalpur  missing woman from baba house returned and baba got bail from police station

भागलपुर में भीखनपुर स्थित बाबा दुर्गेश्वर मिश्रा के साधु सेवा आश्रम से लापता महिला शनिवार देर शाम घर लौट कर आ गईं। इससे पहले महिला के गायब करने का आरोप लगा महिला के परिजनों ने आश्रम में तोड़फोड़ और हंगामा मचाया था। 

महिला ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि बाबा दुर्गेश्वर मिश्रा के कहने पर ही घर में शांति के लिए हवन करने बासुकीनाथ चले गए थे लेकिन बाबा के बासुकीनाथ नहीं पहुंचने पर वह घर लौट आई। रविवार को महिला पति के साथ सिटी डीएसपी के पास पहुंची। महिला ने अपहरण की घटना से इंकार किया है। कोतवाली थाने की महिला दारोगा कुमारी नीता ने महिला का बयान दर्ज किया। गिरफ्तार बाबा को एसएसपी के निर्देश पर इशाकचक थाने के इंस्पेक्टर ने जमानत पर छोड़ दिया।

घरवालों से पूरी बात छिपाने को कहा था
नाथनगर इलाके की रहने वाली महिला ने 161 के तहत दिए बयान में कहा है कि 20 अगस्त को वह बाबा दुर्गेश्वर मिश्रा से मिलने भीखनपुर स्थित मोती मिश्रा लेन आश्रम गयी थी। उसने बाबा को बताया कि पति कर्ज में डूबे हैं और घर में अशांति का माहौल है। बाबा को घर की सारी बातें बताई। इस पर बाबा ने कहा कि आज जाओ तुम्हारे घर पर आता हूं। 22 अगस्त को बाबा घर पर आए। खाना खाए और तीनों बच्चों का हाथ देखकर कहा कि शुक्र की महादशा चल रही है। पति का दूसरी महिला से संबंध है। वेतन का पैसा महिला के पीछे खर्च हो रहा है इसलिए घर में आर्थिक परेशानी और अशांति बनी हुई है। बाबा से शांति के लिए उपाय पूछा गया तो कहा कि कृष्णजन्माष्टमी के दिन बासुकीनाथ मंदिर में शांति के लिए पूजा और हवन करना पड़ेगा। लेकिन इस बात की जानकारी किसी को नहीं देना है।
 
बाबा को भी जाना था बासुकीनाथ
महिला ने कहा कि बाबा की बात मानकर 23 अगस्त की शाम घर में बिना किसी को बताए बासुकीनाथ चली गयी। 24 अगस्त को बाबा को भी बासुकीनाथ आना था। सुबह नौ बजे बाबा को फोनकर पूछा गया कि आप कितने बजे आएंगे तो बाबा ने कहा कि आप वापस लौट आइए। कुछ बात है। महिला ने कहा कि बच्चे और परिवार की चिंता होने लगी थी। सुबह से भूखी थी इसलिए देवघर और बासुकीनाथ में पूजा कर शाम चार बजे बस पकड़ शनिवार रात 11 बजे घर पहुंची। महिला ने कहा कि बाबा की मंशा क्या थी मुझे पता नहीं है।

जब मैं नहीं था तब घर आए थे बाबा: पति
महिला के पति ने कहा कि पत्नी बाबा के बहकावे में आ गई थी। दिमाग खराब कर दिया गया था। इसलिए पत्नी अविश्वास करने लगी थी। पति ने कहा कि बाबा को पुरुषों की अनुपस्थिति में घर नहीं आना चाहिए। पत्नी ने भी बाबा के घर आने के बारे में छिपा लिया था। महिला ने कहा कि गलती हो गई है। अब दोबारा गलती नहीं होगी।  

आश्रम में समथकों की जुटी भीड़
साधु सेवा आश्रम में रविवार सुबह से ही बाबा के समर्थकों की भीड़ लगी हुई थी। समर्थक कह रहे थे कि बाबा को साजिश के तहत बदनाम किया जा रहा है। कई अनुयायी काफी गुस्से में थे। कह रहे थे 20 साल से आश्रम आ रहे हैं लेकिन कभी कोई शिकायत नहीं मिली है। यहां जो भी समस्या लेकर आए हैं, उसका निदान किया गया है। सेवा के कारण बाबा ने सरकारी नौकरी छोड़ दी है। दोपहर बाबा जमानत पर घर लौटे तो आश्रम में लोगों की भीड़ जुट गई। इसमें काफी संख्या में महिलाएं भी शामिल थी। कह रहे थे महिला को हथियार बनाकर वि.रोधियों ने आश्रम पर हमला किया है। बाबा काफी परेशान दिख रहे थे।  

सिटी डीएसपी राजवंश सिंह ने कहा कि महिला का बयान दर्ज किया गया है। बयान में अपहरण या कोई गलत आरोप नहीं लगाया गया है। शनिवार रात बाबा दुर्गेश्वर मिश्रा को गिरफ्तार किया था लेकिन महिला के बयान के आधार पर धारा 41 सी के तहत जमानत पर छोड़ दिया गया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bhagalpur: Missing woman from Baba ashram returned and know full truth of incident