Administration activity increased for the first time after the creation of the scandal - सृजन घोटाला उजागर होने के बाद पहली बार प्रशासन में सक्रियता बढ़ी DA Image
22 नवंबर, 2019|5:04|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सृजन घोटाला उजागर होने के बाद पहली बार प्रशासन में सक्रियता बढ़ी

सृजन घोटाला उजागर होने के बाद पहली बार जिला प्रशासन और अन्य विभागों में सक्रियता बढ़ी है। पहले की तुलना में कार्यालयों में चहल-पहल बढ़ गयी है। एक साथ प्रशासन तीन कार्यक्रमों की तैयारी में जुट गया है। सृजन घोटाला उजागर होने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिले में सभा को संबोधित करेंगे। लोगों की नजर सीएम की सभा पर लगी हुई है।

सृजन घोटाला के उजागर होने के बाद कार्रवाई और जांच को लेकर जिले का विकास कार्य ठप पड़ गया था। करीब पांच महीने तक सरकारी कार्यालयों से चहल-पहल गायब रही। वरीय अधिकारी भी जांच और कार्रवाई को लेकर व्यस्त रहे। अधिकारी और कर्मचारियों पर कार्रवाई का भय सताता रहा, लेकिन 10 दिनों के अंदर होने वाले तीन आयोजनों ने प्रशासन की सक्रियता बढ़ा दी है। सभी कार्यालयों की रौनक इन दिनों बढ़ गयी है। हालांकि घोटाले का असर अब भी कामकाज पर दिख रहा है। जिला नजारत और भू-अर्जन कार्यालय के बैंक खातों से जमा-निकासी नहीं होने से जिला प्रशासन के रोज के खर्च का भुगतान सदर अनुमंडल से हो रहा है।

जिला प्रशासन सहित अन्य विभागों में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के अलावा मानव शृंखला और गणतंत्र दिवस की तैयारी चल रही है। 17 से 26 जनवरी के बीच के कार्यक्रमों को सफल बनाने के लिए अधिकारी और कर्मचारियों ने तैयारी तेज कर दी है। 17 जनवरी को मुख्यमंत्री सुल्तानगंज के ऊधाडीह भीरखुर्द आने वाले हैं। इसे लेकर सभी विभाग के अधिकारी लगातार पंचायत का दौरा कर रहे हैं। सभी विभागों द्वारा रिपोर्ट तैयार की जा रही है। शिलान्यास और उद्घाटन से जुड़ी योजनाओं की सूची तैयार की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Administration activity increased for the first time after the creation of the scandal