DA Image
Tuesday, November 30, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार भभुआपंचायत सरकार बनाने को ले प्लस टू स्कूल में उमड़ा सैलाब (चुनाव)

पंचायत सरकार बनाने को ले प्लस टू स्कूल में उमड़ा सैलाब (चुनाव)

हिन्दुस्तान टीम,भभुआNewswrap
Tue, 26 Oct 2021 07:31 PM
पंचायत सरकार बनाने को ले प्लस टू स्कूल में उमड़ा सैलाब (चुनाव)

पटेल चौक से एकता चौक तक की सड़क जाम, लोगों को आने-जाने में परेशानी

कचहरी परिसर पटा था समर्थकों से, प्रत्याशियों के वाहन को शहर में आने से रोक

भभुआ। एक प्रतिनिधि

सदर प्रखंड में पंचायत चुनाव को लेकर मंगलवार से नामांकन शुरू हो गया। प्लस टू स्कूल में मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्य व पंच पद के लिए तथा कचहरी परिसर स्थित अनुमंडल कार्यालय में जिला परिषद सदस्य पद के लिए नामांकन किया जा रहा है। इस दौरान प्लस टू स्कूल व कचहरी परिसर प्रत्याशियों के समर्थकों से पटा हुआ था। पटेल चौक से एकता चौक तक की सड़क जाम थी। इस वजह से वाहन तो रेंगते हुए चल रहे थे। पैदल आने-जाने वाले लोगों को भी दिक्कत हुई।

हालांकि प्रत्याशियों के साथ आने वाले वाहनों के काफिलों को चैनपुर रोड में सुअरा नदी के पास रोक दिया जा रहा था। अखलासपुर रोड में हवाई अड्डा के पास, कुदरा रोड में बस पड़ाव के पास व मोहनियां रोड में कैमूर स्तंभ के पास वाहनों को रोका जा रहा था। इसके बावजूद छोटे वाहन आ-जा रहे थे। प्रत्याशियों के साथ समर्थकों का इतना हुजूम जुटा था कि सड़क पर चलने वालों को दिक्कत हो रही थी। कचहरी परिसर के बाहर और प्लस टू स्कूल के बाहर माला विक्रेताओं की चांदी थी। दर्जनों माला विक्रेता बाइक व साइकिल पर लेकर माला बेच रहे थे।

प्रत्याशी के नामांकन करने जाने के बाद उनके समर्थक माला का मोल-भाव करने लगते थे। कचहरी गेट के पास और प्लस टू स्कूल के मुख्य गेट के पास माला की ज्यादा दुकानें सजी थीं। हालांकि दोनो जगहों पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस बल की तैनाती की गई थी। लेकिन, लोगों की भीड़ और आने-जाने वालों के हुजूम के सामने महिला-पुरुष पुलिस जवान क्या करें समझ नहीं पा रहे थे। फिर भी वह भीड़ को हटाने में पसीना बहा रहे थे।

हेल्प डेस्क सेंटर पर हुई नामांकन पत्रों की जांच

नामांकन को लेकर पदवार हेल्प डेस्क सेंटर बनाए गए थे। उम्मीदवार अपने नामांकन पत्र को इस सेंटर पर जांच कराते थे। फिर कर्मी नामांकन पत्र को एआरओ को देते थे। एआरओ की स्वीकृति के बाद नामांकन पत्र दाखिल किया जा रहा था। नामांकन होने के बाद उम्मीदवारों को उसकी पावती रसीद दे दी जाती थी। लेकिन, इसके बाद हर नामांकन काउंटर तैनात किए गए आईटी सहायकों को आवेदन दे दिया जाता था। आईटी सहायकों द्वारा प्रत्याशियों के आवेदन को ऑनलाइन किया जाता था। प्रत्याशियों के नामांकन के लिए कुल 35 टेबल बनाए गए थे।

कंट्रोल रुम से हो रही थी मॉनिटरिंग

प्लस टू स्कूल में कंट्रोल रुम स्थापित किया गया था, जहां निर्वाची पदाधिकारी सह प्रखंड विकास पदाधिकारी शशिकांत शर्मा अन्य अधिकारियों व कर्मियों के साथ तैनात थे। नामांकन के टेबल पर होने वाली समस्या की जानकारी मिलने पर घोषणा की जा रही थी। प्लस टू स्कूल में हो रहे नामांकन में वार्ड सदस्य के काउंटर पर अधिक भीड़ देखने को मिली। मुखिया पद के लिए बने नामांकन काउंटर पर कम थी। पंचायत समिति सदस्य, सरपंच व पंच के काउंटरों भी नामांकन के पहले दिन कोई खास भीड़ नहीं दिखी।

कैसे क्या हो रहा है यह देखने भी आए थे लोग

प्रत्याशी अपने नामांकन के लिए अपने समर्थकों के साथ आए थे। लेकिन, उनसे अधिक लोग वैसे लोग आए थे, जिन्हें बाद में करना है। वह अनुभव प्राप्त करने आए थे कि कैसे-कैसे क्या हो रहा है। कई संभावित प्रत्याशी नामांकन करने जा रहे अभ्यार्थियों के आवेदन को लेकर देख रहे थे कि इसमे कौन-कौन से कागजात लगाए जा रहे हैं। वह अपने परिचित कर्मियो से भी जानकारी ले रहे थे। हालांकि पहले दिन की भीड़ को देखते हुए कई संभावित प्रत्याशियो को यह कहते सुना गया कि ज्यादा समर्थकों को साथ लाना ठीक नहीं है। भीड़ इतनी अधिक हो रही है कि लोगों को लाने में असुविधा होगी।

फोटो-26 अक्टूबर भभुआ- 14

कैप्शन- सदर प्रखंड में होनेवाले पंचायत चुनाव में नामांकन के लिए मंगलवार को टाउन हाई स्कूल में उमड़ी लोगों की भीड़।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें