DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › भभुआ › दुर्गा पूजा पर्व पर चौकस रहेगी सुरक्षा, 189 दंडाधिकारी तैनात (पेज चार की लीड खबर)
भभुआ

दुर्गा पूजा पर्व पर चौकस रहेगी सुरक्षा, 189 दंडाधिकारी तैनात (पेज चार की लीड खबर)

हिन्दुस्तान टीम,भभुआPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 08:00 PM
दुर्गा पूजा पर्व पर चौकस रहेगी सुरक्षा, 189 दंडाधिकारी तैनात (पेज चार की लीड खबर)

क्षेत्र में भ्रमणशील रहकर हर गतिविधि का जायजा लेते रहेंगे अफसर व जवान

कैमूर में 15 अक्टूबर को मनाया जाएगा विजयादशमी का पर्व, प्रशासन अलर्ट

ग्राफिक्स

107 दंडाधिकारी तैनात रहेंगे भभुआ अनुमंडल में

082 दंडाधिकारी प्रतिनियुक्त किए गए मोहनियां में

भभुआ। हिन्दुस्तान संवाददाता

नवरात्र व दशहरा पर्व को शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराने को लेकर जिला प्रशासन ने सुरक्षा का पुख्ता बंदोबस्त किया है। चुनावी चहलकदमी के बीच पड़ रहे पर्व के दौरान जिले में कहीं भी किसी तरह की गड़बड़ी नहीं हो सके, इसको लेकर जिला प्रशासन अलर्ट है। डीएम नवदीप शुक्ला व एसपी राकेश कुमार ने सभी पुलिस व प्रशासनिक अफसरों को 24 घंटा अर्लट मोड में रहते हुए हर गतिविधि पर पैनी नजर रखने का निर्देश दिया है।

जिला प्रशासन द्वारा पर्व में विधि-व्यवस्था संधारण को लेकर जिले में कुल 189 दंडाधिकारी, पुलिस अफसर व भारी संख्या में जवानों की तैनाती की गई है। भभुआ अनुमंडल में 107 व मोहनियां अनुमंडल में 82 स्थानों पर दंडाधिकारी की ड्यूटी लगाई गई है। इसके अलावा भी भभुआ अनुमंडल में 19 एवं मोहनियां अनुमंडल में 13 दंडाधिकारी, पुलिस अफसर व जवानों को सुरक्षित में रखा गया है। डीएम ने सभी थानाध्यक्ष, बीडीओ, सीओ व प्रखंड स्तर के विभिन्न विभागों के अफसरों को विधि-व्यवस्था संधारण को लेकर क्षेत्र में भ्रमणशील रहने का निर्देश दिया है।

उन्होंने दोनों अनुमंडल के एसडीओ एवं एसडीपीओ तथा जिले के वरीय पुलिस एवं प्रशासनिक अफसरों को विधि-व्यवस्था की मॉनिटरिंग करने की जिम्मेवारी सौंपी है, ताकि पर्व के दौरान जिले में किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना नहीं हो सके। जिला प्रशासन द्वारा जारी संयुक्त आदेश में इस बात का उल्लेख किया गया है कि पर्व के दौरान प्राय: यह देखा जाता है कि कुछ लोग व्यक्तिगत द्वेष व पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर किसी प्रकार की घटना को अंजाम देने की फिराक में रहते है। ऐसे में लोगों के बीच आपसी तनाव व विधि व्यवस्था की समस्या उत्पन्न हो जाती है।

संयुक्त आदेश में कहा गया है कि पूर्व में कुछ जगहों पर पूर्वग्रह को लेकर लोगों के बीच आपस में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो चुकी है। ऐसी स्थिति में पुलिस व प्रशासनिक अफसरों को लोगों की हर गतिविधियों पर पैनी नजर रखने की जरुरत है। डीएम व एसपी ने उत्पाद विभाग एवं सभी थानाध्यक्षों को यह भी निर्देशित किया है कि किसी भी स्थान पर शराब व गांजा की बिक्री नहीं हो सके, इस अवैध धंधे में लिप्त लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेंजे।

सोशल मीडिया पर नजर रखें अधिकारी

भभुआ। संयुक्त आदेश में इस बात का उल्लेख किया गया है कि पर्व में शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए सूचनाओं को एकत्र करना महत्वपूर्ण कार्य है। अमाजिक तत्वों के द्वारा सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालकर व ट्वीट कर सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने का प्रयास करते हैं। इस प्रकार की कोई वारदात नहीं हो, इसको लेकर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी हमेशा सोशल मीडिया पर भी ध्यान रखेंगे। अगर किसी व्यक्ति द्वारा आपत्तिजनक पोस्ट डाला गया तो उसे तत्काल गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई करें।

कलक्ट्रेट में स्थापित रहेगा नियंत्रण कक्ष

भभुआ। दशहरा में विधि-व्यवस्था को लेकर जिला प्रशासन द्वारा कलक्ट्रेट स्थित जिला आपदा कार्यालय में जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है। जिला प्रशासन के एक वरीय अधिकारी ने बताया कि जिला नियंत्रण कक्ष पर्व की समाप्ति तक कार्यरत रहेगा। प्रशासन ने नियंत्रण कक्ष के टेलीफोन नंबर 06189-222080 जारी किया है। नियंत्रण कक्ष में 24 घंटा पुलिस व प्रशासनिक अफसरों की ड्यूटी लगाई गई है।

जिला प्रशासन ने की आमजनों से अपील

जिला प्रशासन ने आमलोगों से अपील की है कि पर्व के दौरान अगर किसी असामाजिक तत्वों द्वारा गड़बड़ी की जा रही है या इसके लिए कोशिश की जा रही है तो बिना देर किए इसकी सूचना तत्काल नियंत्रण कक्ष के टेलीफोन नंबर पर दें। सूचक का नाम व पता गोपनीय रखते हुए अधिकारी जल्द मौके पर भेजा जाएगा। अधिकारी वहां पहुंचकर असामाजिक तत्वों व गड़बड़ी करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करेंगे।

फोटो-11 अक्टूबर भभुआ- 2

कैप्शन- नवरात्र को लेकर शहर के एकता चौक के पास सोमवार को सुरक्षा में तैनात पुलिस जवान।

संबंधित खबरें