DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  भभुआ  ›  150 बेड के आइसोलेशन सेंटर पर मात्र 8 पर ऑक्सीजन सुविधा (पटना का टास्क/पेज पांच की लीड खबर)

भभुआ150 बेड के आइसोलेशन सेंटर पर मात्र 8 पर ऑक्सीजन सुविधा (पटना का टास्क/पेज पांच की लीड खबर)

हिन्दुस्तान टीम,भभुआPublished By: Newswrap
Wed, 21 Apr 2021 07:40 PM
150 बेड के आइसोलेशन सेंटर पर मात्र 8 पर ऑक्सीजन सुविधा (पटना का टास्क/पेज पांच की लीड खबर)

अनुमंडल मुख्यालय से पंद्रह किलोमीटर की दूरी पर दो शिफ्ट में तैनात किये गये हैं चिकित्सक व एएनएम

भभुआ रोड स्टेशन पर मिलने वाले कोरोना पॉज़िटिव यात्रियों को ले जाया जाता है आइसोलेशन सेंटर में

मोहनियां। एक संवाददाता

अनुमंडल मुख्यालय से 15 किलोमीटर की दूरी पर कटराकलां गांव के पास जीएनएम हॉस्टल में स्वास्थ्य विभाग ने अनुमंडलस्तरीय 150 बेड के आइसोलेशन सेंटर बनाया है। लेकिन, 150 बेड में मात्र 8 बेड पर ऑक्सीजन की सुविधा है। यहां दो शिफ्ट में एक चिकित्सक व दो एएनएम की तैनाती की गई है। भभुआ रोड स्टेशन पर बाहर से आने वाले यात्रियों की कोरोना जांच के बाद पॉजिटिव लोगों को वहां रखा जा रहा है।

गौरतलब है कि सरकार ने अनुमंडल स्तर पर आइसोलेशन सेंटर खोलने का निर्देश जिला प्रशासन को दिया था। जिला प्रशासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने इस बार अनुमंडल मुख्यालय से पन्द्रह किलोमीटर दूर आइसोलेशन सेंटर खोलने का निर्णय लिया। जबकि पिछले साल यह सेंटर अनुमंडल मुख्यालय में था। मुख्यालय से काफी दूर होने के चलते चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मियों के साथ-साथ खाना पहुंचाने वाली एनजीओ को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

मंगलवार को डीएम नवदीप शुक्ला, एसपी राकेश कुमार, प्रभारी सिविल सर्जन डॉ. मीना कुमार, जिला यक्ष्मा पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार सिंह, एसडीएम अमृषा बैंस, डीएसपी रघुनाथ सिंह व डीसीएलआर राजेश कुमार सिंह ने आइसोलेशन सेंटर का जायजा लिया था। वहां भर्ती मरीजों से बातचीत की और उन्हें मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी ली।

इस संबंध में पूछने पर आइसोलेशन सेंटर के प्रभारी व अनुमंडल अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ. अवधेश कुमार दास बताते हैं कि कोविड केयर सेंटर में शौचालय व पेयजल की समुचित व्यवस्था है। दो शिफ्ट में चिकित्सकों की ड्यूटी लगाई गई है। एक डॉक्टर के साथ दो नर्स तैनात की गई है। मरीजों के लिये खाना पहंुचाने की जिम्मेवारी एनजीओ एजेंसी को है, जो सुबह में नाश्ता व दो समय का भोजन मरीजों को मुहैया कराती है। जहां तक ऑक्सीजन सिलेंडर का सवाल है फिलहाल 8 सिलेंडर वहां मौजूद है। आवश्यकतानुसार इसे बढ़ाया जाएगा। अभी इस कोविड केयर सेंटर में मात्र 9 मरीज ही भर्ती हैं।

आइसोलेशन सेंटर की व्यवस्था पर विधायक ने उठाया सवाल

मोहनियां। अनुमंडलस्तरीय आइसोलेशन सेंटर की व्यवस्था पर रामगढ़ विधायक सुधाकर सिंह ने सवाल उठाया है। उनका कहना है कि रिमोट एरिया में आइसोलेशन सेंटर खोलकर जिला प्रशासन सच्चाई को छिपाने का कोशिश कर रहा है। अनुमंडल अस्पताल में जब 75 बेड हैं, तो यहां 40 बेड को कोविड केयर सेंटर क्यों नहीं खोला जाता? रामगढ़ रेफरल अस्पताल में भी कोरोना के मरीजों के लिये 30 बेड की व्यवस्था की जा सकती है। इसके लिये मैं स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव से बात कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि आइसोलेशन सेंटर में ऑक्सीजन की लचर व्यवस्था को देखते हुए मैंने पहले ही इस मुद्दे पर प्रधान सचिव को पत्र लिखा है। लेकिन, अब मोहनियां और रामगढ़ में आइसोलेशन सेंटर की व्यवस्था के लिए व प्रयास कर रहा हूं। इतनी दूरी पर आइसोलेशन सेंटर रखने में काफी परेशानी का सामना सभी को करना पड़ रहा है।

फ़ोटो 21 अप्रैल मोहनियां 2

कैप्शन- कटरा कला के पास जीएनएम हॉस्टल में बने अनुमंडल स्तरीय आइसोलेशन सेंटर का निरीक्षण करतीं एसडीएम।

संबंधित खबरें