DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  भभुआ  ›  टीका महाभियान में सूबे में कैमूर को मिला छठा स्थान (पेज तीन की लीड खबर)
भभुआ

टीका महाभियान में सूबे में कैमूर को मिला छठा स्थान (पेज तीन की लीड खबर)

हिन्दुस्तान टीम,भभुआPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 07:50 PM
टीका महाभियान में सूबे में कैमूर को मिला छठा स्थान (पेज तीन की लीड खबर)

कैमूरवासियों व जिला प्रशासन ने मिलकर जोर लगाया तो एक दिन के लक्ष्य को पार कर 117.18 प्रतिशत लोगों ने ले ली कोविड वैक्सीन

दिया संदेश, पौधरोपण व स्वच्छता अभियान में अव्वल कैमूर जिला वैक्सीनेनशन में भी रहेगा आगे

नकारात्मक सोंच पर भारी पड़ा उत्साह, निबंधन और स्लॉट बुकिंग के झंझट की छूट से मिली सफलता

06 ठे स्थान पर पहुंचा टीका महाभियान में कैमूर

भभुआ। कार्यालय संवाददाता

टीका महाभियान में कैमूर जिला सूबे में छठे स्थान पर पहुंच गया। हालांकि भागलपुर, सुपौल, बक्सर, बांका, पूर्वी चंपारण जिला क्रमश: एक से पांच स्थान पर है। लक्ष्य को पार करने में जिला प्रशासन के कई टिप्स काम आए हैं। कोविड टीका को लेकर लोगों में भ्रम था। अफवाह फैली थी। हिचक थी। लेकिन, इन सारी नकारात्मक सोंच को बदला और वह लोग भी बुधवार को वैक्सीन लेने केंद्र पर पहुंचे, जो कल तक टीकाकरण से इंकार कर रहे थे। जब कैमूरवासियों व जिला प्रशासन की टीम ने समन्वय बनाकर काम किया और उत्साहित भीड़ घरों से टीका लेने पहुंची तो वैक्सीन ही कम पड़ गई, जिसकी संभावना स्वास्थ्य महकमा को भी नहीं रही होगी। लेकिन, ऐसा कई केंद्रों पर हुआ।

राज्य से जारी रैंकिंग लिस्ट के अनुसार, कैमूर जिले को 11200 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य दिया गया था। कैमूर के 13124 लोगों ने वैक्सीन ली, जिसके आधार पर कैमूर की रैंकिंग 117.18 प्रतिशत हुआ। लेकिन, जिला प्रशासन के अनुसार, बुधवार को आयोजित टीका महाभियान में 8000 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा था। लेकिन, 13054 लोगों ने वैक्सीन ली।

हर प्रखंड ने लक्ष्य पूरा किया। हालांकि बिहार स्तर के टीकाकरण पर नजर डालें, तो बारिश के कारण कई जिलों में वैक्सीनेशन प्रभावित हुआ है। लेकिन, कैमूरवासियों ने विशेष टीकाकरण के दौरान यह संदेश देने की कोशिश की है कि जिस तरह स्वच्छता मिशन और पौधरोपण अभियान में कैमूर जिला अव्वल रहा है, उसी तरह वैक्सीनेशन में अन्य जिलों से आगे रहेगा।

अगर लोगों की हिचक इसी तरह टूटती रही तो कैमूर की आबादी टीकाकरण के जरिए कोरोना की जंग जीत लेगी। रामपुर, भगवानपुर, रामगढ़, कुदरा आदि प्रखंडों कई केंद्रों पर टीका पड़ गए तो कई प्रखंड टीकाकरण के लिए मिले लक्ष्य को न सिर्फ पूरा किया बल्कि आगे भी निकल गया। इसमें ऑनलाइन निबंधन और स्लॉट बुकिंग के झंझट की मिली छूट भी मददगार साबित हुई। शहर के अरविंद कुमार, चंद्रशेखर सिंह कहते हैं कि अगर जिला प्रशासन इस तरह की छूट दे तो वह दिन दूर नहीं जब हमारा जिला पूरे बिहार में वैक्सीनेशन में अव्वल हो जाए।

कैमूरवासियों के जज्बे को सलाम

कोरोना संक्रमण को जड़ से मिटाने के लिए टीकाकरण को लेकर शासन से लेकर जिला प्रशासन तक ने जोर दिया है। इसके तहत जिले में बुधवार को 176 विशेष शिविर लगाया गया, जहां उत्साहित भीड़ पहुंची और टीका लिया। इसमें युवाओं की संख्या ज्यादा दिखी। अधेड़ व वृद्ध महिला-पुरुष भी कम नहीं थे। इनके जज्बे सलाम करने योग्य दिखे। क्योंकि इन्होंने जिला प्रशासन के लक्ष्य को पूरा करने में उत्साहपूर्ण मदद की।

कनिष्ठ कर्मियों ने किया बड़ा काम

अधिकारियों की टीम टीकाकरण कार्य की मॉनिटरिंग कर रही है। जहां के लोग टीका लेने से इंकार कर रहे हैं, वहां ग्रामीणों को समझाने व टीका से होनेवाले फायदे के बारे में बताने जा रही है। लेकिन, असल काम कनिष्ठ कर्मी कर रहे हैं। शिक्षक, आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका, जीविका दीदी, विकास मित्र, किसान सलाहकार, पंचायत सचिव आदि ग्रामीणों को जागरूक कर टीकाकरण के लिए तैयार कर रहे हैं।

कोट

टीका महाभियान में कैमूर जिला छठे स्थान पर रहा। कैमूरवासियों में टीका को लेकर उत्साह देखा गया। मेरी अपील है कि अफवाह व भ्रम में न पड़कर टीका लगवाकर जीवन को सुरक्षित बनाएं।

ऋषिकेश जायसवाल, डीपीएम

फोटो- 17 जून भभुआ- 1

कैप्शन- सदर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में गुरुवार को एक महिला को कोविड वैक्सीन लगाती नर्स।

संबंधित खबरें