DA Image
25 सितम्बर, 2020|12:15|IST

अगली स्टोरी

सरगना समेत पांच अंतरप्रांतीय अपराधी गिरफ्तार

default image

इंजीनियर व रेलकर्मी के साथ लूटपाट करने वाले गिरोह का कैमूर पुलिस ने मंगलवार को किया भंडाफोड़

एनएच-30 पर लहुरीबारी गांव के पास रात में हुई थी लूटपाट की घटना

पुलिस द्वारा गठित टीम को मिली सफलता, प्रेसवार्ता में एसपी ने दी जानकारी

ग्राफिक्स

06 मोबाइल अपराधियों के पास से हुए बरामद

10 अगस्त की रात में एनएच-30 पर हुई थी लूट

मोहनियां। एक संवाददाता

एनएच-30 पर लहुरीबारी गांव के पास पिछले माह एक इंजीनियर व उनके साथियों की गाड़ी पंक्चर कर की गई लूट मामले में मोहनियां पुलिस ने अंतरप्रांतीय सरगना समेत पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके पास से बरामद आधा दर्जन मोबाइल में से तीन मोबाइल लूट के शिकार हुए इंजीनियर व उनके साथी रेलकर्मी के हैं। पुलिस गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ कर रही है। इस मामले का खुलासा एसपी ने प्रेसवार्ता में किया।

एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि 10 अगस्त की रात एनएच-30 पर कर्मनाशा में कार्यरत वरीय इंजीनियर विभूति वैभव व उनके साथी कृष्ण चन्द्र जैना अपने विभागीय बोलेरो से पटना से लौट रहे थे। इसी बीच अपराधियों ने कील गाड़कर लहुरीबारी के पास उनकी गाड़ी को पंक्चर कर दिया। टायर बदलने के दौरान अपराधी आ धमके व उनके पास से लगभग 46 हजार रुपये व आधा दर्जन मोबाइल लूट ली। इस कांड के उद्भेदन के लिये गठित पुलिस टीम ने बीस दिनों के अंदर मामले का उद्भेदन कर लिया और सरगना समेत अंतरप्रांतीय गिरोह के पांच अपराधियों को दबोच लिया।

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों में सभी का अपराधिक इतिहास बताया जा रहा है। लूट, डकैती, शराब व वाहन चोरी के कई मामले रोहतास, औरंगाबाद व झारखंड के पलामू में दर्ज हैं। इस गिरफ्तारी में डीएसपी रघुनाथ सिंह, इंस्पेक्टर विन्ध्याचल प्रसाद, थानाध्यक्ष उदयभानू सिंह, डीआईयू प्रभारी संतोष कुमार वर्मा व एएसआई राजेश कुमार ने अच्छा काम किया है। उन्हें पुरस्कृत किया जायेगा।

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों में सरगना सुनील राम औरंगाबाद जिले के टंडवा थाना थेत्र के उदाना टोला संगवा का निवासी है। अन्य अपराधियों में रोहतास जिले के अकोढ़ीगोला थाना क्षेत्र के खपरा गांव का विनय पासवान, मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के बड़हार गांव का प्रेम कुमार उर्फ प्राण व सुनील कुमार तथा औरंगाबाद जिले के नावानगर थाना क्षेत्र के बेलाईं गांव का नीतीश कुमार शामिल है।

कई मामले में सुनील की थी तलाश

मोहनियां। मुख्य सरगना सुनील उर्फ लंगड़ा को कई मामले में झारखंड व बिहार पुलिस को तलाश थी। झारखंड के पलामू जिले के विश्रामपुर व चैनपुर थाना क्षेत्र के अलावा औरंगाबाद जिले के बारूण थाना क्षेत्र में पेट्रोल पंप लूट, रोहतास जिले के संझौली थाना क्षेत्र में हुई दर्जनों डकैती कांडों में फरार था। एसपी ने बताया कि पहले यह नक्सली गतिविधियों में भी संलिप्त था। विनय मोहनियां थाना क्षेत्र में हुई डकैती कांडों में फरार था। रोहतास जिले के अकोढ़ीगोली व दरिगांव थाना क्षेत्र में शराब कांड के मामले में जेल जा चुका है। प्राण पर डकैती व शराब के करीब आधा दर्जन मामले रोहतास जिले में दर्ज हैं।

फोटो परिचय-01-सितंबर-मोहनियां-2

कैप्शन- गिरफ्तार अपराधियों के साथ मंगलवार को प्रेसवार्ता करते एसपी व खड़े थानाध्यक्ष।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Five international criminals arrested including gangster