DA Image
26 सितम्बर, 2020|9:25|IST

अगली स्टोरी

प्लस टू व उत्क्रमित उच्च विद्यालयों में नौवीं कक्षा में नामांकन शुरु

default image

स्थानीय व प्रवासी छात्रों का नौवीं कक्षा में हो रहा है नामांकन, प्रवासी छात्रों को मिल रही छूट

जिले में 27 नए उत्क्रमित उच्च विद्यालय बनने से पंचायत में ही नामांकन करा रहे हैं छात्र

ग्राफिक्स

40 जिले में है प्लस टू स्कूल

27 हैं अपग्रेड हाई स्कूल

भभुआ। एक प्रतिनिधि

जिले के प्लस टू स्कूल और उत्क्रमित उच्च विद्यालयों में नौवीं कक्षा के छात्रों का नामांकन शुरु हो गया है। नामांकन कराने को लेकर छात्र स्कूलों में पहुंचने लगे हैं। हालांकि जिन पंचायतों में उच्च विद्यालय नहीं थे, उन पंचायतों के मिडिल स्कूल को अपग्रेड कर हाई स्कूल का दर्जा दिया गया है, जहां भी नामांकन लिया जा रहा है। जिले में कुल 40 प्लस टू स्कूल हैं। मुख्यमंत्री के द्वारा जिले में 27 नए उत्क्रमित उच्च विद्यालय का उद्घाटन किया गया है। उत्क्रमित उच्च विद्यालयों के उद्घाटन के बाद जिले में कुल 57 स्कूलों में नौवीं कक्षा में नामांकन किया जा रहा है।

शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, जिले के जिले में कुल 166 हाई स्कूल हैं, जिसमें 139 विद्यालयों में नौवीं कक्षा में नामांकन पूर्व से चल रहा था। 27 नए उच्च विद्यालयों का उद्घाटन होने के बाद उसमें नामांकन कार्य मंगलवार से शुरु किया गया है। वहीं प्लस टू स्कूलों में इंटर के छात्रों का नामांकन चल रहा था। कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्कूलों में ज्यादा छात्र न हो इसको लेकर नौवीं में नामांकन रोका गया था, ताकि छात्रों व शिक्षकों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने में कोई परेशानी न हो।

इंटर के छात्रों का नामांकन कार्य अब समाप्ति की ओर है। अब नौवीं के छात्रों का नामांकन किया जा रहा है। हालांकि श्रीमति उदासी देवी हाई स्कूल के प्राचार्य राजकुमार चौधरी ने बताया कि नौवीं कक्षा के नामांकन को लेकर विभाग द्वारा 15 सितंबर तक की तिथि निर्धारित की गई है। छात्र विद्यालय में आ रहे हैं। उनका नामांकन किया जा रहा है।

उत्क्रमित उच्च विद्यालयों में नामांकन से छात्र खुश

उत्क्रमित उच्च विद्यालयों में छात्र नौवीं कक्षा में नामांकन करा रहे हैं। उन्हें इस बात की खुशी है कि अब उनका नामांकन उन्हीं की पंचायत में हो रहा है। पहले उनकी पंचायत में हाई स्कूल नहीं था। इस कारण उनके घर या गांव के छात्रों को भभुआ शहर या फिर दूसरी पंचायत के हाई स्कूल में नौवीं कक्षा में नामांकन कराना पड़ता था। दूसरी पंचायत में पढ़ने जाने के लिए लंबी दूरी तय करनी पड़ती थी। शहर में रहकर पढ़ने पर अतिरिक्त खर्च लगता था।

प्रवासी छात्रों को मिल रही है छूट

प्रवासी छात्रों को नामांकन में छूट मिल रही है। पहले छात्रों को नामांकन में विद्यालय स्थानांतरण प्रमाण पत्र देना पड़ता था। विद्यालय स्थानांतरण प्रमाण पत्र पर सक्षम पदाधिकारी का हस्ताक्षर कराना पड़ता था। लेकिन, शिक्षा विभाग के निर्देश के बाद अब उन्हें विद्यालय स्थानांतरण प्रमाण पत्र पर सक्षम पदाधिकारी के हस्ताक्षर के बिना ही नामांकन किया जा रहा है। हालांकि शिक्षा विभाग द्वारा कहा गया है कि छात्रों को मैट्रिक बोर्ड की परीक्षा में शामिल होने से पहले उन्हें सक्षम पदाधिकारी से हस्ताक्षर कराकर स्कूल में जमा करना होगा।

कोट

प्लस टू स्कूल और उत्क्रमित मध्य विद्यालय में नौवीं कक्षा के छात्रों का नामांकन कराया जा रहा है। प्रवासी छात्रों से स्थानांतरण प्रमाण पर सक्षम पदाधिकारी के हस्ताक्षर नहीं रहने पर भी नामांकन करने का निर्देश दिया गया है। प्रवासी छात्रों को मैट्रिक बोर्ड परीक्षा के पूर्व विद्यालय से स्थानांतरण पत्र पर सक्षम पदाधिकारी का हस्ताक्षर कराकर जमा करने की बात कही गई है।

सूर्य नारायण, जिला शिक्षा पदाधिकारी

फोटो-01 सितंबर भभुआ- 3

कैप्शन- शहर के टाउन हाई स्कूल में मंगलवार को नौवीं कक्षा में नामांकन के लिए फार्म जमा करते छात्र।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Enrollment in ninth grade starts in plus two and advanced high schools