ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार भभुआइको पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित होगा दुर्गावती जलाशय (सर के ध्यानार्थ)

इको पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित होगा दुर्गावती जलाशय (सर के ध्यानार्थ)

पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन डॉ. प्रेम कुमार ने जल क्षेत्र का किया निरीक्षण पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन डॉ. प्रेम कुमार ने जल क्षेत्र का किया...

इको पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित होगा दुर्गावती जलाशय (सर के ध्यानार्थ)
हिन्दुस्तान टीम,भभुआMon, 24 Jun 2024 08:30 PM
ऐप पर पढ़ें

पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन डॉ. प्रेम कुमार ने जल क्षेत्र का किया निरीक्षण
नौका विहार द्वार, काउंटर, सड़क, अतिथि भवन, बैरक, कैंटिन का किया उदघाटन

रामपुर, एक संवाददाता। कैमूर-रोहतास की सीमा पर स्थित दुर्गावती जलाशय परियोजना स्थल को इको पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित किया जाएगा। यहां बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, बंगाल के पर्यटक आते हैं। यह बातें सोमवार को पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कही। वह परियोजना स्थल पर दो करोड़ रुपए से निर्मित नौका विहार द्वार, काउंटर, सड़क, अतिथि भवन, बैरक, कैंटिन का उदघाटन करने के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मंत्री ने नौका विहार से जलाशय का निरीक्षण किया और कहा कि यहां पर्यटन के विकास की काफी संभावना है। भभुआ से चैनपुर के करकटगढ़, अधौरा के तेल्हाड़ कुंड व दुर्गावती जलाशय परियोजना तक कॉरिडोर का निर्माण कराया जाएगा, जिससे पर्यटन स्थल एक-दूसरे से जुड़ जाएंगे। यहां रोजगार की काफी संभावना है। बिहार के लोग दूसरे प्रदेश में रोजगार के लिए नहीं जाएं, ऐसा सरकार का प्रयास है। इसी प्रयास के तहत यहां रोजगार की संभावना तलाशी गई है। पांच किमी. में परियोजना क्षेत्र फैला है।

कार्यक्रम में श्रम संसाधन मंत्री संतोष कुमार सिंह, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मो. जमा खान, बिहार विधान परिषद (शिक्षक) जीवन कुमार, भभुआ विधायक भरत बिंद डीएम सावन कुमार, डीएफओ चंचल प्रकाशम, एसडीएम विजय कुमार, एसडीपीओ शिवशंकर कुमार, रेंजर मनोज कुमार, रामकेशी राम, विमलेश पांडेय, धर्मेंद्र सिंह, पुष्कर पांडेय आदि थे।

जंगल सफारी व इको टूरिज्म से बढ़ेगा आवक

पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग ने कैमूर के करकटगढ़ में इको टूरिज्म को लेकर पर्यटन की कई सुविधाएं उपलब्ध कराई है। दुर्गावती जलाशय परियोजना स्थल के पास भी पर्यटकों के लिए नौका विहार के साथ कई अन्य सुविधाएं मुहैया कराया है। जंगल सफारी, इको पार्क एवं अन्य टूरिज्म गतिविधियों से यहां पर्यटकों का आवागमन बढ़ जाएगा, जिससे नए रोजगार का सृजन भी होगा। इस स्थल को लोग पिकनिक स्पॉट के रूप में उपयोग करते आ रहे हैं।

फोटो- 24 जून भभुआ- 5

कैप्शन- दुर्गावती जलाशय परियोजना के पास निर्मित भवन का सोमवार को उद्घाटन करते पर्यावरण मंत्री डॉ. प्रेम कुमार, श्रम संसाधन मंत्री संतोष कुमार सिंह, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मो. जमा खां व अन्य।

नोट- यह खबर सासाराम संस्करण में भी जा सकती है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।