DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  भभुआ  ›  लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने से व्यवसाइयों में मायूसी (पेज चार)

भभुआलॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने से व्यवसाइयों में मायूसी (पेज चार)

हिन्दुस्तान टीम,भभुआPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 08:10 PM
लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने से व्यवसाइयों में मायूसी (पेज चार)

कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए एक जून तक सरकार की पाबंदियां जारी

दुकानदारों ने कहा, लॉकडाउन के कारण इस साल फिर मार खा गई लग्न की कमाई

भभुआ। हिन्दुस्तान संवाददाता

कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए बिहार सरकार द्वारा लॉकडाउन की अवधि एक जून तक बढ़ाए जाने को लेकर व्यवसायियों में मायूसी है। शहर के व्यवसाइयों का कहना है कि लॉकडाउन के कारण उनकी आर्थिक स्थिति दिनोंदिन कमजोर होती जा रही है। पिछले साल जब लग्न का मौसम शुरू हुआ था तब कोरोना संक्रमण को ले सरकार ने लॉकडाउन कर दिया था। इस साल भी उसी थति से गुजरना पड़ रहा है।

कपड़ा व्यवसाई संजय कुमार, संतोष कुमार एवं शृंगार प्रसाधन के व्यवसाई राकेश कुमार ने बताया कि इस साल भी अप्रैल माह में जैसे ही लग्न शुरू हुआ, सरकार ने कोरोना संक्रमण को लेकर लॉकडाउन कर दिया। उक्त दुकानदारों ने बताया कि हमलोग दुकानदारी की बदौलत ही सालोंभर परिवार के जीविकोपार्जन का इंतजाम कर पाते हैं। दुकानदारी प्रभावित हो जाने के कारण कई समस्याएं उत्पन्न हो गई है। दुकान का किराया, बिजली बिल, स्टॉफ को मानदेय देने का बोझ बढ़ गया है।

उन्होंने कहा कि आमदनी का जरिया दूसरा नहीं होने के कारण घर में चूल्हा-चौकी भी बंद होने की नौबत आ गई। कई दुकानदारों ने यह भी बताया कि 1 जून के बाद अगर अनलॉक नहीं हुआ तो हमलोग दाने-दाने के मोहताज हो जाएंगे और परिवार के समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो जाएगी। क्योंकि पिछले साल से ही हमलोग घाटे में चल रहे हैं, जिसकी भरपाई करना मुश्किल है।

फुटपाथ दुकानदार रमेश प्रसाद, रामराज बिंद व सुदामा बैठा ने बताया हमलोग प्रतिदिन फुटपाथ पर दुकान लगाकर अपना रोजगार करते हैं। सरकार द्वारा लॉकडाउन लगाए जाने के कारण काफी दिनों से रोजगार पूरी तरह से प्रभावित हो गया है। उक्त दुकानदारों ने कहा कि हमलोग प्रतिदिन सामानों की खरीद-बिक्री कर बाजार से राशन खरीदकर दो जून के भोजन का प्रबंध करते हैं। अब समझ में नहीं आ रहा है क्या करें?

लॉकडाउन का सख्ती से कराएं पालन

भभुआ। सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के मद्देनजर डीएम व एसपी ने जिले के पुलिस एवं प्रशासनिक पदाधिकारियों को सरकार द्वारा लागू किए गए लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दिया है। डीएम ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार, शहर में दूध, फल, सब्जी, दवा की दुकानें निर्धारित समय तक खुलेंगी। लॉकडाउन के दौरान बेवजह सड़कों पर भ्रमण करने वाले लोगों के विरुद्ध प्रावधान के तहत कार्रवाई की जाए। सभी थानाध्यक्ष बीडीओ, सीओ को अपने क्षेत्र में लॉक डाउन का कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया गया है।

वाहनों के परिचालन पर कंट्रोल नहीं

भभुआ। लॉकडाउन के दौरान जिले की सड़कों पर वाहनों के परिचालन पर प्रशासन व परिवहन विभाग का कंट्रोल नहीं। लॉकडाउन के दौरान सोमवार को शहर के मुंडेश्वरी सिनेमा हॉल के पास से वाराणसी के लिए कई छोटी-बड़ी बसों का परिचालन देखा गया। इसी प्रकार जिले के विभिन्न पदों में ऑटो ई-रिक्शा एवं मैजिक का परिचालन भी पूरे दिन हो रही हैं। वाहन चालकों द्वारा यात्रियों को भेड़-बकरी की तरह ठूंसकर ढोया जा रहा है। इतना ही नहीं प्रशासनिक एवं परिवहन विभाग की अनदेखी के कारण वाहन चालकों द्वारा लोगों से मनमाने ढंग से किराया भी वसूला जा रहा है।

फोटो- 24 मई भभुआ- 12

कैप्शन- भभुआ शहर के मुंडेश्वरी सिनेमा हॉल के पास किराना दुकान से सामग्री खरीदते लोग।

संबंधित खबरें