DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › भभुआ › एक साथ मां के दो स्वरूपों का श्रद्धालुओं ने किया दर्शन-पूजन (पेज चार की फ्लायर खबर)
भभुआ

एक साथ मां के दो स्वरूपों का श्रद्धालुओं ने किया दर्शन-पूजन (पेज चार की फ्लायर खबर)

हिन्दुस्तान टीम,भभुआPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 08:00 PM
एक साथ मां के दो स्वरूपों का श्रद्धालुओं ने किया दर्शन-पूजन (पेज चार की फ्लायर खबर)

स्कंदमाता व कात्यानी स्वरूप की पूजा-अर्चना कर निहाल होते रहे भक्त

मंदिर से धाम परिसर तक 26 दंडाधिकारी कर रहे हैं दो शिफ्ट में ड्यूटी

भभुआ। कार्यालय संवाददाता

सोमवार की सुबह के 5:00 बज रहे हैं। भगवानपुर-मुंडेश्वरी व बेतरी-मुंडेश्वरी पथ में भक्तों की कतार लगी है। कोई बाइक से तो कोई चार चक्का वाले वाहन से और कोई पैदल ही यात्रा कर रहा है। किसी को आरती में शामिल होने की जल्दी है, तो कोई मां का दर्शन कर लौटने की फिक्र में है। धाम परिसर में पूजा सामग्री की सभी दुकानें खुल गई है। भक्त चुनरी, नारियल, फूल, माला, धूप, दीप, धागा, रोली, सिंदूर, कपूर आदि की खरीदारी कर रहा है।

अब सुबह के 6:00 बजने वाला है। सीढ़ी मार्ग से मां के दरबार में पहुंचने वाले श्रद्धालु घंट बजाते उपर की ओर जा रहे हैं। थोड़ी देर में मां की दिव्य आरती शुरू होने वाली है। पुजारियों द्वारा अंदर में सभी तैयारी लगभग पूरी कर ली गई है। बाहर में भक्तों की भीड़ लगी है। अब आरती शुरू हो गई। जो जहां थे वहीं से खड़े होकर मां की अराधना में लीन हो गए। मां का जयकारा भी लग रहा है। धार्मिक न्यास परिषद के सदस्य व अन्य कर्मी भी मौजूद हैं।

भक्तों की इच्छा मां के दो स्वरूपों स्कंदमाता व कात्यानी का दर्शन करने की है। थोड़ी ही देर में भक्तों की लंबी कतार लग गई। आरती शुरू हो गई। जो जहां थे वहीं खड़ा होकर मां की अराधना करने लगे। सीढ़ी मार्ग, सड़क मार्ग, मंदिर व धाम परिसर में लोग जहां-तहां खड़े दिखे। आरती संपन्न होने के बाद आम भक्तों के लिए मां का दरबार खोल दिया गया। बारी-बारी से भक्त मां का दर्शन-पूजन करने अंदर में जाने लगे। हर कोई पहले दर्शन करने को चाह रहा था।

यहां तैनात है पुलिस बल

मुंडेश्वरी धाम मंदिर परिसर, मुंडेश्वरी संग्रहालय, पर्यटन भवन, विवाह भवन, सीढ़ी मार्ग, यज्ञशाला परिसर, मुंडेश्वरी मार्केट कॉम्प्लेक्स, मुंडेश्वरी पार्क, हनुमान मंदिर मोड़, मुंडेश्वरी धार्मिक न्यास भवन आदि जगहों पर सुरक्षा बल तैनात है। धाम परिसर में प्रशिक्षु डीएसपी सह थानाध्यक्ष मो. मुशीर आलम, सब इंस्पेक्टर राकेश कुमार रौशन, एसआई केके सिंह, धार्मिक न्यास के एकाउंटेंट गोपाल कृष्ण, कृषि समन्वयक शैलेंद्र कुमार सिंह की ड्यूटी लगी है।

क्या कहते हैं बाहर से आए श्रद्धालु

यूपी के गाजीपुर से आए शैलेंद्र सिंह व राधिका देवी, चंदौली की यशोदा देवी, बेटा यमुना राम, झारखंड के विश्रामपुर से आए रामचंद्र उरांव व कामेश्वर उरांव, भोपाल के राजेश सिंह ने कहा कि मां की महिमा अपरंपार है। श्रद्धा से जो भी मांग कीजिए, मां उसे पूरी करती हैं। मां मुंडेश्वरी बिगड़े काम को बनाने वाली हैं। राधिका ने बताया कि इसकी वह खुद गवाह हैं। शादी के 10 साल बाद तक कोई औलाद नहीं हुई, तो वह अपने रिश्तेदार की सलाह पर मां के दरबार में अर्जी लगाने तीन साल पहले आई थीं। गोद में दिखाते हुए कहा कि सोना जैसा बेटा हुआ। जब तक जिंदगी रहेगी, मां के दरबार में आती रहूंगी।

कई बार मारी गई, इस बार हो रही कमाई

धाम परिसर में पूजा सामग्री, चाय, नाश्ता, पान, भोजन आदि की दुकानें सजी हैं। यह दुकानें अन्य अवसरों पर भी सजती थीं। लेकिन, कोरोना काल में मंदिर के बंद रहने से खास कमाई का अवसर नहीं मिला। पूजा सामग्री विक्रेता सुरेंद्र प्रसाद ने बताया कि श्रावणी मेला, शारदीय नवरात्र, चैत नवरात्र आदि अवसरों पर उनकी कमाई होती है। इसी कमाई से वह परिवार का खर्च चलाते हैं। रौशन माली ने कहा कि वह पहली बार माला बेचने के लिए आया है। घूम-घूमकर माला बेचता है। यहां अच्छी कमाई हो जा रही है।

फोटो- 11 अक्टूबर भभुआ-1

कैप्शन- मुंडेश्वरी धाम परिसर में सोमवार को माता रानी का दर्शन-पूजन करने के लिए इंतजार में श्रद्धालु।

संबंधित खबरें