DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › भभुआ › निर्दोष को छुड़ाने के लिए थाने में जुटी ग्रामीणों की भीड़
भभुआ

निर्दोष को छुड़ाने के लिए थाने में जुटी ग्रामीणों की भीड़

हिन्दुस्तान टीम,भभुआPublished By: Newswrap
Tue, 03 Aug 2021 08:11 PM
निर्दोष को छुड़ाने के लिए थाने में जुटी ग्रामीणों की भीड़

तस्कर ने थाने पर आकर स्वीकार किया, तो निर्दोष ग्रामीण को पुलिस ने छोड़ा

छापेमारी में 3.8 किलो गांजा व 32 बोतल देसी शराब बरामद की थी पुलिस

चांद। एक संवाददाता

चांद पुलिस ने गुप्त सूचना पर मंगलवार के दोपहर मे बिउरी में चन्दन साह के मुर्गी फार्म पर छापामारी कर 3.8 किलो गांजा व 32 बोतल देसी शराब बरामद किया है। हालांकि पुलिस की भनक लगते ही तस्कर फरार हो गया। इसी क्रम में संदेह के आधार पुलिस ने वहां से दो लोगों को उठाकर थाना लाई, जिसमें एक गहमर निवासी अवधेश सिंह शराब पिए हुआ था और दूसरा ग्राम बिउरी निवासी जयप्रकाश सिंह जो निर्दोष था। उसे छुड़वाने के लिए बिउरी की पब्लिक थाना पर जुट गयी, जिससे चौक सहित थाना परिसर तक भीड लग गया। जब शाम 5 बजे बिउरी गाव के दबाव पर तस्कर का भाई भंटू जायसवाल थाना पहुचकर स्वीकार किया कि बरामद गांजा व शराब मेरा है और पुलिस को देखते ही आनन फानन मैं बाहर फेंक दिया था, जो जयप्रकाश सिंह के मुर्गी फार्म के बाहर मिला था।

पुलिस ने भंटू जायसवाल को तत्काल गिरफ्तार कर लिया और निर्दोष जयप्रकाश सिंह को छोड़ दिया। छूटने के बाद थाना से जयप्रकाश सिंह के साथ बिउरी के राधेश्याम सिंह मुखिया प्रतिनिधि, कृष्णा सिंह पूर्व प्रमुख प्रतिनिधि, मंहथ सिह, जयप्रकाश तिवारी इत्यादि ने बताया कि निर्दोष लोग को पुलिस पकड़कर लाई थी। जबकि तस्कर सामने से ही भागा था। चौक पर खड़ी सैकड़ों लोगों की भीड़ ने कहा पुलिस अपनी रवैये में सुधार नहींी लाई तो पब्लिक उपर तक जाकर शिकायत करेगी।

थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि तीन किलो आठ सौ ग्राम गांजा व 32 बोतल देसी शराब की बरामदगी हुयी है, जिसमे एक तस्कर का भाई भंटू जायसवाल एवं एक शराबी गिरफ्तार हुआ है। जयप्रकाश सिंह नामक व्यक्ति को पूछताछ करने के लिए लाया गया था, जिसे छोड़ दिया गया है।

गाड़ी में शराब पी रहे तीन लोगों को दबोचा

चैनपुर। गाड़ी में बैठकर शराब पी रहे तीन लोगों को पुलिस ने मंगलवार की शाम गिरफ्तार किया। यइ कार्रवाई पटना कंट्रोल रूम से मिली सूचना के आधार पर की गई। केवा गांव के पास बोलेरो में बैठकर कुछ लोग शराब पी रहे थे। प्रशिक्षु डीएसपी अजय कुमार चौधरी के नेतृत्व में पुलिस टीम मौके पर पहुंची। गाड़ी को सेंसर लॉक से बंद कर दिया गया था। गाड़ी से 2 बोतल शराब मिली। यह गाड़ी किसी शराब माफिया की बताई गई है। पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई में एक पंचायत के मुखिया का भाई भाग निकला, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। प्रशिक्षु डीएसपी सह थानाध्यक्ष ने कहा कि कंट्रोल रूम की सूचना पर यह कार्रवाई की गई है। अभी मामले की गहराई से जांच की जा रही है। जांच के बाद सब कुछ बताया जाएगा।

संबंधित खबरें