DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैर फिसलने से महेंदवार के मजदूर की भभुआ में मौत

भभुआ शहर में भवन निर्माण कार्य में कर रहा था मजदूरी का काम

पीड़ितों को ढांढस बंधाने पहुंचे समाजसेवी ने मदद का भरोसा दिया

भगवानपुर। एक संवाददाता

थाना क्षेत्र के महेंदवार गांव के 35 वर्षीय मजदूर मुंशी पासवान की मौत भवन निर्माण के दौरान पैर फिसलने के कारण गुरुवार को हो गई। वह भभुआ शहर के एक व्यक्ति के घर की छत की ढलाई के दौरान मजदूरी का काम कर रहा था। इसी दौरान सीढ़ी से उसका पैर फिसल गया, जिससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया। सूत्र बताते हैं कि इलाज के लिए उसे भभुआ शहर के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया। चिकित्सक ने उसके स्वास्थ्य की जांच करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

घटना की सूचना मिलने के बाद पीड़ित परिजनों से मिलने गए समाजसेवी नीरज पाडेय ने बताया कि मुंशी मजदूरी कर अपने परिजनों की परवरिश कर रहा था। लेकिन, उसकी मौत के बाद परिजनों पर दु:ख का पहाड़ टूट पड़ा। उन्होंने उसके पिता जोखन पासवान को ढांढस बंधाया और मदद करने का भरोसा दिया। नीरज चांद प्रखंड के दारूनपुर गांव में सुखारी बिंद के घर गए। उनके 30 वर्षीय बेटे प्यारे बिंन्द की मौत एनएच दो पर सिहोरिया मौड़ के पास सड़क हादसे में हो गई थी। उनके साथ अन्य कई लोग थे।

फोटो- 12 जुलाई भभुआ- 16

कैप्शन- भवन निर्माण के दौरान पैर फिसलने से मजदूर की मौत के बाद गुरुवार की रात महेंदवार गांव में पीड़ित परिजनों को ढांढस बंधाते समाजसेवी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bhabhua news