bhabhua news - जलस्तर खिसकने बिचड़ा डालने में हो रही परेशानी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जलस्तर खिसकने बिचड़ा डालने में हो रही परेशानी

रोहिणी नक्षत्र चढ़ते ही बिचड़ा डालने के लिए खेतों में पानी भर रहे किसान

बोले किसान, कुछ देर तक चलने के बाद पानी उगलना कर रहा डीजलपंप

ग्राफिक्स

01 लाख10 हजार हेक्टेयर में होगी धान की खेती

11 हजार हेक्टेयर में बिचड़ा डालेंगे जिले के किसान

भभुआ। हिन्दुस्तान संवाददाता

कैमूर में जलस्तर खिसक जाने से सिंचाई संकट के साथ पेयजल की समस्या भी उत्पन्न हो गया है। तीखी धूप एवं भीषण गर्मी के बीच जहां किसान खेतों में कसरत करते नजर आ रहे हैं, वहीं सूखते हलक को तर करने के लिए ग्रामीण काफी दूर से पानी ला रहे हैं। शनिवार को रोहिणी नक्षत्र शुरू हो गया है। इस नक्षत्र के चढ़ते ही कुछ किसान धान का बिचड़ा डालने की तैयारी भी शुरु कर दिए हैं। लेकिन, जल स्तर काफी नीचे खिसक जाने के कारण उन्हें बिचड़ा डालने में परेशानी हो रही है।

किसानों का कहना है कि एक-दो घंटा चलने के बाद डीजल पंप पानी उगलना बंद कर दे रहे हैं। नहरों में भी पानी अब तक नहीं आया है। ऐसी स्थिति में बिचड़ा डालने का कार्य प्रभावित हो रहा है। उधर, सब्जी की खेती करनेवाले किसान भी अपनी फसल की सिंचाई करने के लिए परेशान हो रहे हैं। किसान उमा सिंह एवं गुड्डू सिंह ने बताया कि धान का बिचड़ा डालने के लिए खेत में पानी कर रहे हैं, ताकि एक सप्ताह में खर-पतवार उग आएगा तो उसकी जुताई कर दुबारा पानी करके बिचड़ा डाल देंगे। लेकिन, जलस्तर नीचे खिसक जाने से डीजल पंप पानी नहीं दे रहा है।

किसान गुड्डू सिंह ने यह भी बताया कि बिचड़ा डालने के लिए नहर से कबतक पानी मिलेगा यह पूछने पर सिंचाई विभाग के अफसरों ने बताया कि अभी एक सप्ताह का और इंतजार करना पड़ेगा। लोहदी के किसान भुनेश्वर दुबे व अमांव के किसान राजधार सिंह ने बताया कि सिंचाई के अभाव में सब्जी की फसल मार खा रही है। राजधार सिंह ने कहा कि सब्जी की सिंचाई 24 घंटे में एक बार करनी पड़ती है। लेकिन, जल स्तर नीचे खिसक जाने के चलते मोटर व डीजलपंप से पानी नहीं निकल रहा है। जलस्तर नीचे खिसकने से बिचड़ा डालने के लिए खेत में पानी करने में भी परशानी हो रही है।

फोटो-26 मई भभुआ- 4

कैप्शन- सदर प्रखंड के बाईपास पथ के पास पानी के अभाव में सूखी पड़ी कसरे वितरणी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bhabhua news