Saturday, January 29, 2022
हमें फॉलो करें :

गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार बेगूसरायकोरोना से बचाव के लिए सिर्फ 35 प्रतिशत लोग ही अबतक फुल वैक्सीनेटेड

कोरोना से बचाव के लिए सिर्फ 35 प्रतिशत लोग ही अबतक फुल वैक्सीनेटेड

हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायNewswrap
Wed, 01 Dec 2021 07:21 PM
कोरोना से बचाव के लिए सिर्फ 35 प्रतिशत लोग ही अबतक फुल वैक्सीनेटेड

बेगूसराय। हमारे प्रतिनिधि

एक ओर जहां कोरोना वायरस के नये वैरिएंट ओमिक्रॉन से लेकर सरकार व प्रशासन अलर्ट मोड में है। दूसरी ओर जिले में अबतक सिर्फ 35 प्रतिशत लोग ही कोरोना टीका का दोनों डोज ले सके हैं। वहीं पांच लाख लोग पूर्ण रूप से वंचित हैं। जानकारी के मुताबिक जिले में 20 लाख 49 हजार लोगों को टीका दिये जाने का लक्ष्य है। अबतक 15 लाख 38 हजार 399 लोगों को टीका का प्रथम डोज जबकि सात लाख छह हजार 199 लोगों को दोनों डोज दिया जा चुका है।

जिले मे शत प्रतिशत लोगों को टीका देने के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. गोपाल मिश्र ने बताया कि चार दिसंबर को फिर से कोरोना टीकाकरण महाअभियान चलाया जाएगा। इसको लेकर छह सौ टीकाकरण केंद्र बनाये जाएंगे। जिन लोगों ने अबतक टीका का कोई डोज नहीं लिया है, वे अवश्य रूप से टीका लें। वहीं जिनके दूसरे डोज का ड्यू चल रहा है, वे भी निकट के केंद्र पर पहुंचकर टीका लें।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में दूसरे डोज का दो लाख ड्यू चल रहा है। वैसे लोगों को पीएचसी स्तर से टेलीफोन के माध्यम से टीका लेने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसके अलावा कई जगहों पर टीका को लेकर भ्रांतियां भी है। ऐसे लोगों की तमाम आशंका को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। आंगनबाड़ी सेविका, आशा, जीविका दीदी मोबिलाइजर के रूप में काम कर रही हैं। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में जिले के सभी स्वास्थ्य उपकेंद्रों पर नियमित रूप से टीकाकरण कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

बाहर से आने वाले लोगों की कराई जा रही जांच

सिविल सर्जन डॉ. प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि विदेश अथवा दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को ट्रेस कर उनकी कोरोना जांच कराई जा रही है। इसके अलावा रेलवे स्टेशनों पर भी जांच की व्यवस्था है। वर्तमान में हर रोज सात हजार से अधिक लोगों की कोरोना जांच कराई जा रही है। जांच में और भी वृद्धि की जाएगी।

तीसरी लहर से बचाव के लिए पूरी तैयारी

सिविल सर्जन ने बताया कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से पूरी तैयारी कर ली गई है। ऑक्सीजन प्लांट पूर्ण रूप से तैयार हैं। इसके संचालन को लेकर कर्मियों को प्रशिक्षित किया जा चुका है। सभी पीएचसी में ऑक्सीजन युक्त बेड को तैयार रखने का निर्देश दिया गया है। दवा की किसी तरह की समस्या नहीं है।

epaper

संबंधित खबरें