ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार बेगूसरायभीषण गर्मी ने बढ़ाई स्कूलों बच्चों की परेशानी, कड़ी धूप में घर लौटने की विवशता

भीषण गर्मी ने बढ़ाई स्कूलों बच्चों की परेशानी, कड़ी धूप में घर लौटने की विवशता

बच्चों को स्कूल से छुट्टी उस वक़्त मिल रही है जब तापमान सबसे ज्यादा होता है।

भीषण गर्मी ने बढ़ाई स्कूलों बच्चों की परेशानी, कड़ी धूप में घर लौटने की विवशता
default image
हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायMon, 24 Jun 2024 08:30 PM
ऐप पर पढ़ें

बेगूसराय, हमारे प्रतिनिधि। भीषण गर्मी के बीच स्कूल का संचालन सुबह साढ़े छह बजे से 12 बजे तक किया जा रहा है। जिले के ज्यादातर सरकारी विद्यालय में वर्ग कक्ष में पंखा का अभाव है। इस भीषण गर्मी में पसीने से लथपथ होते हुए ये नौनिहाल अपने भविष्य का ककहरा सीख रहे हैं। सबसे दुखद यह है कि इन बच्चों को स्कूल से छुट्टी उस वक़्त मिल रही है जब तापमान सबसे ज्यादा होता है। ऐसे में ये बच्चे अपनी जान जोखिम में डाल कर स्कूल जा रहे हैं।
गौरतलब है कि इस साल अब तक मानसून की बारिश नहीं के बराबर हुई है। इस वजह से भीषण गर्मी का प्रकोप है। अधिकतम तापमान 37 डिग्री व आकाश में बादल छाए रहने की वजह से दिन भर उमस के कारण अत्यधिक गर्मी का अहसास हो रहा है। गर्मी छुट्टी के बाद जिले के लगभग सभी सरकारी और गैर सरकारी विद्यालय अब संचालित किए जा रहे हैं। सुविधा संपन्न परिवार के बच्चे धूप से बचने के लिए छाता का उपयोग कर रहे हैं। लेकिन गरीब परिवार से आने वाले बच्चे अपनी जान जोखिम में डालकर बीच दोपहर में अपने घर को लौट रहे हैं। ऐसे में आये दिन बच्चों के स्वास्थ्य से संबंधित परेशानी सामने आ रही है। अखिल भारतीय नौजवान संघ के अमोद कुमार ने जिला प्रशासन से छात्र के स्वास्थ्य हित में बारिश होने तक वर्ग संचालन स्थगित करने का अनुरोध किया है। इधर, जिला शिक्षा अधिकारी राजदेव राम ने कहा कि अभी वर्ग संचालन को स्थगित करने संबंधी कोई निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।