DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार बेगूसरायआधुनिक भारत के पुनर्निर्माण में पंडित नेहरू का योगदान अमूल्य

आधुनिक भारत के पुनर्निर्माण में पंडित नेहरू का योगदान अमूल्य

हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 07:10 PM
आधुनिक भारत के पुनर्निर्माण में पंडित नेहरू का योगदान अमूल्य

बेगूसराय। हिन्दुस्तान टीम

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती बाल दिवस के रूप में जिलेभर में मनाई गई। शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति कार्यालय में कार्यक्रम की अध्यक्षता शिक्षक नेता अमरेंद्र कुमार सिंह ने की। उन्होंने कहा कि नेहरू जी का जन्म 14 नवंबर 1889 ईस्वी को इलाहाबाद में आंनद भवन में हुआ था। उन्होंने लंदन में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के बाद वे 1912 में स्वाधीनता आंदोलन में भाग लिया व उसका नेतृत्व किया। उन्हें भारत रत्न से भी सम्मानित किया गया था।

साहित्यकार चंद्रशेखर चौरसिया ने कहा कि नेहरू जी देश के बच्चों के लिए प्रिय थे। इसलिए उनका जन्म दिवस बाल दिवस के रुप में मनाया जाता है। उन्होंने खासकर पंचशील के सिद्धांत को लागू किया था। इंजीनियर आलोक कुमार ने कहा कि नेहरू जी आजाद भारत के प्रथम प्रधानमंत्री थे। वे स्वभाव से सरल और सहज और सुलभ थे। किंतु देश की शासन व्यवस्था को सुदृढ़ रखने में कठोर बन रहे। महिला सेल की सचिव सुनीता देवी ने भी विचार रखे। इस अवसर पर छात्र अंकित कुमार पाठक, अभिषेक कुमार पाठक, ज्ञान चंद्र पाठक, राजेश पाठक, विकास सिन्हा, खुशी सिंह, आंचल कुमारी, आसमा कुमारी, आकर्षण कुमार, कृष्णा, कन्हैया आदि बच्चों ने चाचा नेहरू के जन्म दिवस को मनाया और उनको याद किया।

तेघड़ा से नि.सं. के अनुसार आधुनिक भारत के पुनर्निर्माण में पंडित नेहरू का योगदान अमूल्य है। उन्होंने जर्जर भारत को वैज्ञानिक सोच के साथ सर्वांगीण विकास के पथ पर अग्रसर किया। यह बात भाग्य नारायण कन्या महाविद्यालय बरौनी गांव के प्रभारी प्राचार्य प्रो अरविंद कुमार ने आयोजित गोष्ठी में कही। कॉलेज शासी निकाय के अध्यक्ष शिवजी सिंह ने कहा कि नेहरु ने अपने जन्म दिन को बाल दिवस के रूप में मनाकर भारत के भावी उज्जवल भविष्य की आधारशिला रखी। महाविद्यालय के अन्य प्राध्यापकों ने भी पंडित नेहरू को याद किया। रातगांव के नयानगर गांधी आश्रम में गांधीवादी चिंतक मदन मोहन सिंह गांधी की अध्यक्षता में पंडित नेहरू को याद किया। कहा कि उन्होंने विश्व में शांति स्थापित करने के क्षेत्र में निर्गुट राष्ट्रों के गठन कर एतिहासिक काम किया। मध्य विद्यालय अयोध्या में बच्चों ने बाल दिवस मनाया गया।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें