DA Image
24 अक्तूबर, 2020|11:15|IST

अगली स्टोरी

यूपी के सीएम के फोटो पर सड़ा अंडा फेंक छात्राओं ने जताया विरोध

default image

यूपी के हाथरस में दलित छात्रा के साथ पहले गैंगरेप फिर उसकी हत्या हो गयी। इन्हें अभी न्याय मिला नहीं था कि बलरामपुर व बुलंदशहर में छात्राओं के साथ इसी तरह की घटना होने खिलाफ शहर स्थित श्रीकृष्ण महिला कॉलेज के समीप एआईएसएफ से जुड़ी छात्राओं ने सीएम के पुतलायुक्त फोटो पर सड़ा हुआ अंडा, आलू, टमाटर, प्याज फेंक कर आक्रोश व्यक्त किया।

इससे पहले छात्राओं का क्रांतिकारी जत्था छात्र संघ कार्यालय से निकलकर योगी आदित्यनाथ का एक पुतला युक्त फोटो बनाया। उसके बाद छात्राओं ने एक-एक कर उस फोटो पर सड़े हुए अंडे, प्याज, आलू, टमाटर फेंक कर, योगी सरकार हाय- हाय, योगीराज में छात्राएं व सुरक्षित क्यों मोदी सरकार जवाब दो, योगी मोदी गद्दी छोड़ो, महिलाओं छात्राओं की सुरक्षा की गारंटी करनी होगी, एआईएसएफ जिंदाबाद जैसे नारेबाजी करते हुए आक्रोश व्यक्त किया।

रेपिस्टों के खिलाफ कठोर कानून बनने से ही छात्राएं व महिलाएं होगी सुरक्षित

एआईएसएफ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अमीन हमजा व छात्रा जिला संयोजिका सह श्रीकृष्ण महिला महाविद्यालय अध्यक्ष अप्सरा कुमारी ने संयुक्त रूप से कहा कि यूपी में छात्राओं के साथ लगातार अमानवीय करतूत होने के बाद आरोपितों को पकड़ने में विफल सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ अब देशभर में आक्रोश व गुस्सा गहराता जा रहा है। पुलिसिया गुंडागर्दी करने वाले पुलिस पर कार्रवाई भी नहीं हुई थी। दलित छात्रा को सही से न्याय भी नहीं मिल पाया था कि उसी प्रदेश के बलरामपुर व बुलंदशहर में इस तरह की घटना योगी सरकार के महिला छात्रा विरोधी मानसिकता को दर्शाता है। इससे साफ जाहिर होता है कि वहां के रेपिस्टों व गुंडों को सीएम का संरक्षण प्राप्त है। उन्होंने कहा कि सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का ढकोसला नारे लगाती है। जबकि भाजपा सरकार में महिलाएं बिल्कुल असुरक्षित है। वह सरकार ना ही बेटियों को पढ़ा पा रही है ना ही सुरक्षा कर पा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को रेपिस्टों के खिलाफ ऐसी कठोर कानून बनाने की मांग संगठन करता है जिसे सोच कर भी ऐसी सोच रखने वाले सहम जाए। जिला मंत्री किशोर कुमार व ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय की सह संयोजिका सोनी कुमारी ने संयुक्त रूप से कहा कि सीएम योगी से उत्तर प्रदेश नहीं संभल रहा है तो नैतिकता के आधार पर उन्हें इस्तीफा देना चाहिए।

मौके पर वीरपुर के अंचल मंत्री ऋषभ कुमार, छात्रा नेत्री तायबा परवीन, पूजा कुमारी, अवनि कुमारी, दीपा कुमारी, अंकिता कुमारी, सबा परवीन, संगीता कुमारी, रिंकी कुमारी, रोशनी खातून समेत दर्जनों छात्राएं उपस्थित थीं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Students protest against throwing rotten eggs on UP CM 39 s photo