ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार बेगूसरायकाम पर लौटीं सेविकाएं, आंगनबाड़ी केंद्र फिर से गुलजार

काम पर लौटीं सेविकाएं, आंगनबाड़ी केंद्र फिर से गुलजार

हड़ताल खत्म करने के साथ ही इस दौरान की गई सभी तरह की कार्रवाई स्वत: खत्म हो...

काम पर लौटीं सेविकाएं, आंगनबाड़ी केंद्र फिर से गुलजार
हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायSat, 09 Dec 2023 08:15 PM
ऐप पर पढ़ें

बेगूसराय, हमारे प्रतिनिधि। मांगों को लेकर पिछले 71 दिनों से चली आ रही आंगनबाड़ी सेविकाओं की हड़ताल खत्म हो गई। सेविका व सहायिकाएं फिर से काम पर लौट आईं। इसके साथ ही, आंगनबाड़ी केंद्र फिर से गुलजार हो गया। हालांकि हड़ताल के दौरान चयनमुक्त सेविकाओं के प्रखंड परियोजना कार्यालय में योगदान की स्वीकृति को लेकर ऊहापोह का माहौल देखा गया।
बखरी विधायक सूर्यकांत पासवान ने बताया कि आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका के मुद्दे पर मुख्यमंत्री के साथ आठ दिसंबर को वार्ता हुई थी। मुख्यमंत्री ने सेविकाओं से हड़ताल खत्म करने का आग्रह किया था। कहा था कि उनकी सभी पांच मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जा रहा है। इसको लेकर दस्तावेज भी लगभग तैयार है। सेविकाओं की हड़ताल के चलते घोषणा नहीं की जा रही थी। विधायक ने बताया कि मुख्यमंत्री ने वार्ता के दौरान कहा है कि हड़ताल खत्म करने के साथ ही इस दौरान की गई सभी तरह की कार्रवाई स्वत: खत्म हो जाएगी।

विधायक ने बताया कि चयनमुक्त की गई सेविकाओं को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। एक दो दिनों में कार्रवाई से संबंधित पत्र को रद्द करने का पत्र भी विभाग को प्राप्त हो जाएगा। इधर, आईसीडीएस डीपीओ सुगंधा शर्मा ने बताया कि चयनमुक्त की गई सेविकाएं भी हड़ताल खत्म करने से संबंधित सूचना विभागीय कार्यालय में दे सकती हैं। हालांकि उनका योगदान तभी स्वीकृत होगा जब विभाग से इस संबंध में कोई पत्र प्राप्त होता है। बेगूसराय जिले में 3250 आंगनबाड़ी केंद्र संचालित हैं। हालांकि हड़ताल के दौरान विभागीय निर्देश पर 347 सेविकाओं को चयनमुक्त करने का आदेश जारी किया गया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें