DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नवजात की मौत पर परिजनों ने किया हंगामा, चिकित्सक पर आरोप

शहर के पावर हाउस रोड में स्थित एक निजी क्लीनिक पर नवजात की मौत पर सोमवार की सुबह परिजनों ने जमकर हंगामा किया। परिजन चिकित्सक पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए बवाल काटा। इस दौरान चिकित्सक व परिजनों में धक्का मुक्की की भी नौबत बनी रही।

सूचना पाकर नगर थाना व गाछी टोला चौकी की पुलिस मौके पर पहुंच आक्रोशित लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। चेरियाबरियारपुर थाना क्षेत्र के विक्रमपुर गांव निवासी रामसखा पासवान ने बताया कि 29 अक्टूबर को क्लीनिक में उनकी पत्नी रीना देवी ने बच्चे को जन्म दिया। चिकित्सक ने कहा कि बच्चा कमजोर है उसे शीशा में रखना होगा।

पीड़ित पिता ने बताया कि चार दिन बाद जब बच्चे का हालचाल जानना चाहा तो बच्चे से नहीं मिलने देकर कहा कि पहले पैसा जमा करो। पैसा जमा करा लेने के बाद भी बच्चे को देखने नहीं दिया। यहां तक की बच्चे को मां का दूध तक पीने नहीं दिया। परिजनों ने कहा कि रविवार की रात कहा गया कि आपका बच्चा नहीं बच सका। घटना की सूचना मिलते ही आसपास के दर्जनों महिला-पुरूष क्लीनिक पर पहुंच हंगामा करने लगे। बाद में पीड़ित परिवार को समझा-बुझाकर शांत कराया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kidnap on the death of neonatal