DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  बेगूसराय  ›  चिकित्साकर्मियों की मांगें पूरी नहीं हुई तो होगी आरपार की लड़ाई
बेगुसराय

चिकित्साकर्मियों की मांगें पूरी नहीं हुई तो होगी आरपार की लड़ाई

हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 07:40 PM
चिकित्साकर्मियों की मांगें पूरी नहीं हुई तो होगी आरपार की लड़ाई

बेगूसराय। निज प्रतिनिधि

बिहार चिकित्सा व जनस्वास्थ्य कर्मचारी संघ जिला शाखा सामान्य परिषद की बैठक गुरुवार को कर्मचारी भवन महासंघ कार्यालय में हुई। अध्यक्षता आशा कुमारी ने की। इसमें सर्मसम्मति से कोरोना महामारी में नियमित या संविदाकर्मी अपने जान की परवाह किये बिना संक्रमण के रोकथाम में अपनी सक्रिय भागीदारी दी है। लेकिन सीएस के द्वारा स्थानांतरण के नाम पर कर्मचारियों को अस्त-व्यस्त की नीति का विरोध करने का निर्णय लिया गया। जिला मंत्री लव कुमार सिंह ने वर्षों से लम्बित एसीपी व एमएसीपी, सेवा सम्पुष्टि, सभी कर्मियों को ससमय वेतन भुगतवान व स्थानान्तरण की आर में दोहन - शोषण की कार्यवाही सहित अन्य समस्याओं का मुद्दा उठाया।

अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के जिलामंत्री मोहन मुरारी ने कहा चिकित्सा कर्मी वर्षों से एसीपी व एमएसीपी के लाभ वंचित हैं। इस कोरोना महामारी में चिकित्सा कर्मी अपनी जान को जोखिम में डालकर संक्रमण के रोकथाम के लिए सतत कार्य कर रहे हैं। फिर भी अनेकों कर्मी वेतन व मानदेय के भुगतान से वंचित हैं। इस कोरोना काल में कई कर्मी जान भी गंवा चुके हैं। स्थानान्तरण के नाम पर हाय-तौबा मचा है। चिकित्सा कर्मियों की सभी समस्याओं के समाधान की मांग की। सामूहिक स्थानांतरण चाहे संविदकर्मी का हो या नियमित कर्मियों का यदि इन समस्याओं का समाधान नहीं हुआ हो चिकित्सा संघ आंदोलन के लिए तैयार है। बीमार लाचार सेवानिवृति के सन्निकट कर्मी, पति-पत्नी का समायोजन जैसी ही स्थानांतरण करने पर बल दिया गया।

मौके पर उपाध्यक्ष शंकर मोधी, स्वास्थ्य संविदा कर्मचारी संघ के अध्यक्ष जितेन्द्र कुमार, जिलामंत्री आनन्द ईश्वर, श्रीमोद कुमार, कालीकान्त साह, कृष्णा कुमारी, सविता कुमारी, रेणु कुमारी, रीना कुमारी, बिन्दु कुमारी, पुनिता कुमारी, कल्याणी कुमारी, कंचन कुमारी, नुतन कुमारी, वरूऐन्द्र कुमार सिंह, शिवशंकर सिंह, अनिता कुमारी, आशुतोष गांधी, इन्दु सांकृत्यायन समेत दर्जनों नेताओं ने अपने विचार रखे।

संबंधित खबरें