DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  बेगूसराय  ›  लॉक डाउन से प्रभावित जरूरतमंदों को भोजन देने के लिए बढ़ने लगे हाथ
बेगुसराय

लॉक डाउन से प्रभावित जरूरतमंदों को भोजन देने के लिए बढ़ने लगे हाथ

हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायPublished By: Newswrap
Sat, 28 Mar 2020 06:21 PM
लॉक डाउन से प्रभावित जरूरतमंदों को भोजन देने के लिए बढ़ने लगे हाथ

सरकार के निर्देश पर कोरोना वायरस को ले जिले में लॉक डाउन है। इससे गांव से लेकर शहर की मुख्य सड़क व गली दर गली रोड में सन्नाटा है। एनएच व एसएच-55 पर विरानी छायी है। रोज कमाकर खाने वाले ठेला, रिक्शा, खोमचे वाले से लेकर छोटे मोटे दुकानदार घर बैठ गये हैं। सारे काम ठप हैं। दूसरी ओर व्यवसायी खाद्यान्न कालाबजारी कर रहे हैं। देशव्यापी लॉक डाउन के चौथे दिन अब रोज कमाने वाले लोगों के समक्ष अब भुखमरी की स्थिति उत्पन्न होने लगी है। हालांकि जिला प्रशासन की ओर से शहर के बस स्टैंड में 27 मार्च से कम्युनिटी किचेन की शुरूआत की गयी है। ऐसे में शहरी क्षेत्रों में गुजर बसर कर रोज कमाने वाले जरूरतमंदों को चिह्नित करते हुए पका पकाया भोजन वितरण करने का काम एकता शक्ति फाउण्डेशन की ओर से किया गया है। जिला प्रशासन की निगरानी में फाउण्डेशन के पूर्व उपाध्यक्ष व सामाजिक कार्यकर्ता रजनीकांत पाठक ने लोहियानगर गुमटी के समीप झुग्गी झोपड़े में रह रहे बच्चे बूढे व बुजुर्गों के बीच शनिवार को पूर्वाह्न 11 बजे पांच सौ पैकेट खिचड़ी का वितरण किया। यहां की आबादी एनएच के बीच बने गड्ढे में सड़े पानी की दुर्गंध के बीच रेलवे लाइन के किनारे रेलवे की जमीन पर जीने को विवश है। श्री पाठक ने बताया कि पका पकाया भोजन मशीन से तैयार किया जा रहा है। सफाई का विशेष ध्यान रखा जाता है। इस मशीन में दो घंटे में 25 हजार लोगों के भोजन बनाने की क्षमता है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय आपदा के समय मानव जीवन की रक्षा के लिए संस्था सरकार के साथ हर मोड़ पर खड़ी है। उन्होंने बताया कि सरकारकी ओर से सुबह व शाम दैनिक मजदूरों को चिह्नित करते भोजन देने का काम किया जा रहा है। इसमें साई रसोई के सामाजिक कार्यकर्ताओं का भी सहयोग लिया जा रहा है। भोजन वितरण कराने में श्रीपाठक के अलावा संस्था के मुख्य समन्वयक मनोज कुमार, प्रबंधक अजय कुमार, प्रदीप पाठक आदि सहयोग दे रहे हैं।

संबंधित खबरें