DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार बेगूसरायदेवोत्थान एकादशी आज, जाग्रत होंगे विष्णु

देवोत्थान एकादशी आज, जाग्रत होंगे विष्णु

हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 07:00 PM
देवोत्थान एकादशी आज, जाग्रत होंगे विष्णु

गढ़पुरा। निज संवाददाता

कार्तिक शुक्लपक्ष की देवोत्थान (देवउठाउन) एकादशी 15 नवंबर को है। इसी तिथि पर चार माह से शयन कर रहे भगवान विष्णु जाग्रत हो जाएंगे। इसके ठीक बाद शुभ व मांगलिक कार्य पुन: आरंभ हो जाएंगे। घरों में शहनाई गूंजेगी। गृहप्रवेश, यज्ञोपवीत, नामकरण, नए प्रतिष्ठान का शुभारंभ जैसे कार्य होने लगेंगे। भगवान विष्णु आषाढ़ शुक्लपक्ष की एकादशी तिथि से शयन पर हैं। इसी कारण शुभ व मांगलिक कार्य बंद हैं। देवोत्थान एकादशी के अवसर पर पुरोहित घर घर जाकर भगवान विष्णु की पूजा करते हैं जबकि यजमान कई प्रकार के अनाजों का दान करते हैं। ज्योतिर्विद पं. राजेश झा शास्त्री बताते हैं कि देवोत्थान एकादशी पर भगवान विष्णु का पंचामृत से अभिषेक करके विधि-विधान से पूजन करना चाहिए। उन्हें मिष्ठान, सिंघाड़ा, गन्ने का रस अर्पित करके शंख, घंटा-घड़ियाल बजाकर खुशी मनाना चाहिए। साथ ही, भगवान शालिग्राम से तुलसी विवाह कराना चाहिए। तुलसी का शालिग्राम से विवाह कराने वाले भगवान विष्णु की कृपा के पात्र बनते हैं। जिन दंपत्तियों को कन्या नहीं हैं वे तुलसी को कन्यादान करके पुण्य अर्पित कर सकते हैं। देवोत्थान एकादशी के दिन भगवान विष्णु की मूर्ति के सामने दीपक अवश्य जलाना चाहिए। भगवान विष्णु के नाम का कीर्तन भी करना चाहिए। निर्जला व्रत रखना चाहिए। किसी गरीब और गाय को भोजन अवश्य कराना चाहिए।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें