DA Image
21 जनवरी, 2021|5:19|IST

अगली स्टोरी

स्थानीय मजदूरों को रोजगार देने की मांग को लेकर रिफाइनरी के मुख्य द्वार पर दिया धरना

default image

स्थानीय बेरोजगारों को रोजगार देने, रिफाइनरी के विस्तारीकरण के कार्य में स्थानीय मजदूरों तथा कुशल कामगारों को प्राथमिकता देने सहित आठ सूत्री मांगों को लेकर ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस(एटक)के बैनर तले गुरुवार को बरौनी रिफाइनरी के मुख्य द्वार पर धरना दिया गया। अध्यक्षता राजेश चौधरी ने की।

एटक के जिला महासचिव प्रह्लाद सिंह ने कहा कि इन दिनों बरौनी रिफाइनरी का विस्तारीकरण का कार्य चल रहा है। विस्तारीकरण के कार्य में स्थानीय कुशल तथा अकुशल मजदूरों की अनदेखी प्रबंधन के द्वारा किया जा रहा है। स्थानीय लोगों की कृषियोग्य जमीन पर कल कारखाने स्थापित किये गये हैं। लेकिन रोजगार व नौकरी देने के सवाल पर स्थानीय लोगों को कोई तरजीह प्रबंधन के द्वारा नहीं दिया है। हमें रोजगार चाहिए और जीने का अधिकार चाहिए का नारा बुलंद करते हुए एटक यूनियन नेताओं ने कहा कि प्रबंधन का यही रवैया रहा तो चरणबद्ध आंदोलन करेंगे।

एटक नेता ललन लालित्य ने कहा कि प्रबंधन की मजदूर विरोधी नीति के विरोध में एटक संघर्ष को और तेज करेगा। किसान नेता अरविंद सिंह ने कहा कि बरौनी रिफाइनरी सामुदायिक विकास के तहत भी आसपास के इलाके का समुचित विकास नहीं हो पा रहा है। बरौनी तेलशोधक मजदूर यूनियन के कार्यकारी अध्यक्ष आशुतोष कुमार मुन्ना ने सामाजिक दायित्व के तहत प्रबंधन से आसपास के इलाके में स्वास्थय, पेयजल आदि बुनियादी सुविधा को बहाल करने की मांग की। ऑल इंडिया यूथ फेडरेशन के प्रदेश संयुक्त सचिव शंभु देवा, नूर आलम, नवीन सिंह, बीटीएमयू के रजनीश रंजन, ठेका मजदूर नेता ज्ञानी तांती, नेपाली महतो, जावेद खान, मनीष कुमार, शोहराब खान, अशोक पासवान समेत अन्य ने संबोधित किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Demand at the main gate of the refinery to demand employment for local laborers