DA Image
12 जुलाई, 2020|1:36|IST

अगली स्टोरी

लॉक डाउन को प्रभावी बनाने के लिए मुखियाओं ने कसी कमर

default image

लॉक डाउन आगामी तीन मई तक के लिए बढ़ा दी गई है। इस अवधि में लोगों को घर में ही बने रहने की सलाह दी गई है। बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलने की बात कही गई है। प्रधानमंत्री ने सोशल दूरी बनाए रखने पर जोर दिया है। लॉक डाउन को शतप्रतिशत प्रभावी बनाने की चुनौती प्रशासन के सामने है। अब हर थाने और प्रखंड को अपना रुतबा दिखाने का मौका दिया गया है। पंचायतों, गांवों व टोलों मुहल्लों में इसे प्रभावी बनाने पर मंथन चल रहा है। पंचायत के मुखिया जी इस कार्य में स्थानीय प्रशासन के साथ कदमताल करते नजर आ रहे हैं। मुखिया जी अपने पंचायत में सेनेटाइजिंग करवा रहे हैं। लोगों के बीच नहाने का साबुन बांटा जा रहा है। इसके साथ साथ मुखिया जी के वोलेंटियर गुप्तचर की भूमिका भी निभा रहे हैं। बाहर से आने वाले लोगों की सूचना तुरन्त मुखिया जी को दी जा रही है। बाइक लेकर मटरगश्ती करने वाले नवयुवकों की सूची मुखिया जी ने बना ली है। नशेड़ियों,जुआरियों पर खास नजर डाली जा रही है। इस तरह की निगरानी से पुलिस प्रशासन को मदद मिल रही है। मुखिया जी लोगों को घर में ही रहने की सलाह देते नजर आ रहे हैं। जरूरतमंद लोगों को हरसम्भव सहायता करवाने का भरोसा भी मुखिया द्वारा दिया जा रहा है। क्षेत्र के सभी पंचायतों में मुखिया द्वारा लोगों के बीच अपना कुछ अलग प्रभाव डालने की मुहिम सी छिड़ गई है। लॉक डाउन अवधि में अपने पंचायत की छवि बेहतर दिखाने की योजना के तहत यह प्रयास चल रहा है। परिणाम चाहे जो भी हो परन्तु स्थानीय प्रशासन को इससे काफी मदद मिल रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Chiefs tighten back to make lock down effective