DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › बेगूसराय › जुलाई में 35 प्रतिशत कम 166 एमएम हुई औसत बारिश
बेगुसराय

जुलाई में 35 प्रतिशत कम 166 एमएम हुई औसत बारिश

हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायPublished By: Newswrap
Sat, 31 Jul 2021 07:50 PM
जुलाई में 35 प्रतिशत कम 166 एमएम हुई औसत बारिश

सिंघौल। निज संवाददाता

जून माह में जहां जरूरत से ढाई गुना बारिश हुई वहीं जुलाई माह में थोड़ी राहत मिली। जुलाई माह में आमतौर पर औसत 256.8 एमएम बारिश होती है। लेकिन इस बार पूरे माह में औसत से 35.4 प्रतिशत कम सिर्फ 166 एमएम बारिश हुई है। हालांकि, जून माह में हुई जबरदस्त बारिश के कारण खेतों में पर्याप्त पानी भरा है। इस वजह से जुलाई में 90.8 एमएम कम बारिश होने से किसानों को कुछ राहत मिली। यदि जुलाई में और बारिश होती तो किसानों के लिए एक नई मुसीबत खड़ी हो सकती थी।

डंडारी में सबसे अधिक तो नावकोठी में सबसे कम हुई बारिश

जुलाई माह में भले ही जिले की औसत बारिश 166 एमएम रही। लेकिन जिले के चार प्रखंड में औसत बारिश 200 एमएम से अधिक रही। जिला सांख्यिकी विभाग की ओर से जारी आंकड़ों में डंडारी में सबसे अधिक 228.2 एमएम औसत बारिश हुई है। गढ़पुरा में 227.2 एमएम, शाम्हो में 212.2 एमएम, बखरी में 208 एमएम, बछवाड़ा में 190.8 एमएम और सदर प्रखंड और भगवानपुर में जुलाई माह में 186 एमएम औसत बारिश हुई। मंसूरचक प्रखंड में 181.6 एमएम, बलिया में 173.6 एमएम, छौड़ाही में 170 एमएम, चेरिया बरियारपुर में 160.6 एमएम और खोदावंदपुर में 157 एमएम बारिश हुई। जबकि तेघड़ा में 155 एमएम, मटिहानी में 139.2 एमएम, वीरपुर 117.4 एमएम, बरौनी में 114.4 एमएम, साहेबपुर कमाल 102.2 एमएम और नावकोठी में सबसे कम 82.1 एमएम औसत बारिश दर्ज की गई।

ज्यादा बारिश से हलकान हैं किसान

जुलाई माह में भले ही औसत से कम बारिश हुई हो लेकिन जून माह में हुई जबरदस्त बारिश से खेती किसानी बुरी तरह प्रभावित हुई है। जिले में विभाग द्वारा खरीफ महाभियान के लिए निर्धारित लक्ष्य को पूरा कर पाना मुश्किल हो रहा है। क्योंकि अतिवृष्टि के कारण निचले खेतों में जुताई-बुआई नहीं हो सकी वहीं कई प्रखंड में ज्यादा बारिश से फसल को भारी क्षति हुई है। विभागीय निदेश के बाद कृषि कर्मियों के द्वारा फसल क्षति का आकलन किया जा रहा है।

संबंधित खबरें