ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार बेगूसरायबीहट में डायरिया से एक किशोर की मौत, 12 से अधिक पीड़ित

बीहट में डायरिया से एक किशोर की मौत, 12 से अधिक पीड़ित

प्रादेशिक... इस बीमारी से आक्रांत बताये जा रहे हैं। स्थानीय जनप्रतिनिधि की सूचना पर बरौनी सामुदायिक स्वास्थय...

बीहट में डायरिया से एक किशोर की मौत, 12 से अधिक पीड़ित
हिन्दुस्तान टीम,बेगुसरायTue, 28 May 2024 08:00 PM
ऐप पर पढ़ें

बीहट, निज संवाददाता।
बीहट नगर परिषद के वार्ड 23 दास मुहल्ले में डायरिया से एक किशोर की मौत हो गई। 12 से अधिक लोग इस बीमारी से आक्रांत बताये जा रहे हैं। स्थानीय जनप्रतिनिधि की सूचना पर बरौनी सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र की एक टीम मुहल्ले आकर स्थिति का जायजा लिया और लोगों के बीच जरूरी दवा का वितरण किया। डायरिया से आक्रांत दर्जनाधिक लोगों को बरौनी सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र से लेकर अन्य निजी नर्सिग में भर्ती कराया गया है।

विकास मित्र उपेन्द्र दास ने बताया कि राम उदगार दास के 13 वर्षीय पुत्र लक्ष्मण उर्फ गब्बर की मौत डायरिया की वजह से 26 मई को हो गई। उल्टी की शिकायत पर परिजन युवक को इलाज के लिए बीहट के ही एक निजी नर्सिग होम में भर्ती कराया, उसके बाद उसकी मौत हो गई। दो दिनों से दर्जनाधिक लोगों के डायरिया से आक्रांत होने की सूचना मिलने पर मंगलवार को तेघड़ा विधायक रामरतन सिंह, स्थानीय वार्ड पार्षद प्रतिनिधि नारायण सिंह, गौतम कुमार, छात्र नेता राकेश कुमार, सौरभ कुमार, रामकृष्ण, बीहट नगर मंडल भाजपा अध्यक्ष यशस्वी आनंद समेत अन्य जनप्रतिनिधि मुहल्ले पहुंचे। मुहल्ले में गंदगी का अंबार देखकर नगर परिषद के कार्यपालक अधिकारी से शिकायत करने के बाद सफाईकर्मी उक्त मुहल्ले में पड़े कचरे का उठाव किया। स्वास्थय टीम के सदस्यों ने अपेक्षित दवा का वितरण किया। बरौनी सीएचसी की ओर से मुहल्ले में छिड़काव के लिए ब्लीचिंग उपलब्ध कराया गया है। एम्बुलेंस भेजकर आक्रांत कई लोगों को इलाज के लिए बरौनी सीएचसी में भर्ती कराया गया है।

बरौनी सीएचसी प्रभारी डा. संतोष कुमार झा ने बताया कि सूचना मिलते ही डा. राधा, डा. अर्चना, डा. संगीता, जीएनएम नीतिन, जयंती, स्मृति, भूषण, अमित, धर्मवीर कुमार समेत अन्य लोगों ने पूरे मुहल्ले में घुमघुम की स्थिति का जायजा लिया और आक्रंात लोगों को इलाज के लिए बरौनी भेजा। सीएचसी प्रभारी डा. संतोष कुमार झा ने बताया कि दूषित पानी पीने तथा गंदगी की वजह से डायरिया फैलता है। डायरिया से आक्रांत लोगों में उल्टी तथा पतला पैखाना होने का लक्षण पाया जाता है। स्थानीय आशा कार्यकर्ता को स्थिति की मॉनिटरिंग के लिए लगाया गया है।

रामउगार दास का पूरा परिवार है आक्रांत

डायरिया से राम उदगार दास के एक बेटे की मौत हो गई है। उसके परिवार के अन्य सदस्य भी डायरिया से आक्रांत हैं। राम उदगार दास के 14 वर्षीय पुत्र विकास कुमार, पुत्रवधु संगीता देवी, अंजलि कुमारी, सुनील चौधरी समेत कई लोग आक्रांत हैं।

थोड़ी भी वर्षा होने पर दास मुहल्ले की सड़क पर होता है जलजमाव

बीहट नगर परिषद के वार्ड 23 दास मुहल्ले की सड़क पर सालों भर जलजमाव का नजारा देखने को मिलता है। थोड़ी भी वर्षा होने पर सड़क पर जलजमाव हो जाता है। नाली की व्यवस्था नहीं रहने के कारण गंदा पानी भी सड़क पर ही बहता रहता है। मुहल्ले के लोग नेशनल हाइवे 31 पर कचरा फेंकते रहे हैं।

मुहल्ले में कचरे का लगा रहता है अंबार

कहने को तो बीहट नगर परिषद में साफ-सफाई के नाम पर प्रतिवर्ष करोड़ों रूपये खर्च किये जाते हैं। लेकिन बीहट नगर परिषद के वार्ड 23 दास मुहल्ले समेत अन्य कई वार्डों में सालों भर कचरे का अंबार लगा रहता है। कचरे के बाबत तेघड़ा विधायक रामरतन सिंह के द्वारा नगर प्रशासन को फटकार लगाये जाने के बाद नगर प्रशासन ने सफाई कर्मी को भेजकर मुहल्ले में फैले कचरे का उठाव कराया। विकास मित्र उपेन्द्र दास ने बताया कि कई दिनों पूर्व हुए वर्षा की वजह से सड़क पर पानी जम गया है। पानी की सड़ांध से लोगों को काफी दिक्कत हो रही थी। मुहल्ले के लोगों ने खुद के खर्चे से पानी निकलवाया।

मुहल्ले में हो नाला निर्माण

एआईएसएफ के संयुक्त राज्य सचिव राकेश कुमार ने कहा कि मुहल्ले में गंदगी के अंबार की वजह से ही डायरिया फैला और एक किशोर की मौत हो गई है। छात्र नेता सौरभ कुमार ने कहा कि दास मुहल्ले की सघन आबादी में नाला नहीं रहने से पानी हमेशा जमा रहता है और लोग बीमार पड़ते रहते हैं। बीहट नगर मंडल भाजपा अध्यक्ष यशस्वी आनंद ने कहा कि साफ-सफाई को लेकर नगर प्रशासन संवेदनहीन बना हुआ है। करोड़ों खर्च के बावजूद मुहल्ले में कचरे का अंबार सफाई के प्रति नगर परिषद का लापरवाही का परिचायक है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।