ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार बांकाशंभूगंज में कागजों पर हो रहा संचालित सामुदायिक रसोई

शंभूगंज में कागजों पर हो रहा संचालित सामुदायिक रसोई

शंभूगंज (बांका)। एक संवाददाताशंभूगंज (बांका)। एक संवाददाता शंभूगंज में प्रखंड मुख्यालय परिसर के पुराने सभागार भवन में विगत तीन दिनों से चल...

शंभूगंज में कागजों पर हो रहा संचालित सामुदायिक रसोई
हिन्दुस्तान टीम,बांकाTue, 18 May 2021 04:12 AM
ऐप पर पढ़ें

शंभूगंज में कागजों पर हो रहा संचालित सामुदायिक रसोई

शंभूगंज (बांका)। एक संवाददाता

शंभूगंज में प्रखंड मुख्यालय परिसर के पुराने सभागार भवन में विगत तीन दिनों से चल रही सामुदायिक रसोई की स्थिति ठीक नहीं है। जानकारी के अभाव में जरूरतमंद लोग रसोई घर तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। आगंतुक अतिथि के अभाव में रसोई का काम सिर्फ कागजों पर ही सिमटकर रह गई है। सरकार के निर्देश पर लॉकडाउन के दौरान सभी प्रखंडों में रसोईघर संचालित हो रहा है। सोमवार की दोपहर रसोई घर की पड़ताल करने पर भोजन सामग्री के बर्तन खाली दिखे। जबकि एक एलपीजी सिलेंडर, चुल्हा एवं दो अलग - अलग बोरे में कुछ अनाज एवं रसोई पकाने का कुछ उपकरण मिला। रसोई का कार्यभार में सोनू नामक व्यक्ति थे जो सीओ के कहने पर काम कर रहे थे। सभागार के बाहर एक तरफ सामुदायिक रसोई का बैनर मिला। पूछने पर बताया कि तीन किलो चावल बनाया था। वहीं शाम में पंजी पर खानेवाले का नाम अंकित कर देते हैं। इसके चार दिन पूर्व डीपीआरओ रंजन कुमार चौधरी ने सामुदायिक रसोई घर का जायजा लिया गया था। जिसमें को सीओ को रसोईघर सुदृढ़ करने की बात कही थी। बता दें कि भिक्षाटन कर जीवन गुजर करने वाले, रिक्शा, ठेला चालक एवं असहाय लोगों के लिए सरकार की ओर से सभी प्रखंड में यह सुविधा दी गई है। जिसमें लॉकडॉउन के दौरान कोई भी व्यक्ति भूखा न रह सके। वहीं जागरूकता के अभाव में लोग रसोई घर तक नहीं पहुंच रहे। कुछ बुद्धिजीवियों एवं जनप्रतिनिधियों ने कहा कि अंचल प्रशासन को चाहिए कि सामुदायिक रसोई का बैनर कहीं - कहीं सार्वजनिक जगहों पर लगा दें। जिससे जरूरतमंद लोगों को इसका लाभ मिल सके। इस बाबत सीओ अशोक कुमार सिंह ने बताया कि जनता रसोई में जरूरतमंद लोगों का ध्यान रखा जा रहा है। यहां पहुंचने वाले को भरपेट भोजन दी जाती है।

फोटो नंबर-शंभूगंज 21 खाली पड़ी रसोई

सामुदायिक रसोई में भोजन कर रहे श्रमिकों से सीएम ने किया वर्चुअल संवाद

अमरपुर (बांका)। निज संवाददाता

प्रदेश में लगे लॉकडाउन की वजह से गरीबों एवं मजदूरों के भोजन की व्यवस्था सरकार द्वारा सुनिश्चित की गई है। इस व्यवस्था से रूबरू होने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को अमरपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित सामुदायिक रसोई में भोजन कर रहे लोगों से बातचीत की। बनहरा गांव के मो. वाहेब कलंदर एवं करण गोस्वामी से भोजन के संबंध में बातचीत की। उन्होंने बताया कि भोजन स्वादिष्ट एवं बढ़िया है। सीएम के वर्चुअल संवाद को लेकर अधिकारियों की टोली पिछले दो दिनों से अमरपुर में जमी थी तथा लोगों को समझा बुझाकर वर्चुअल संवाद के लिए तैयार किया गया था। इस मौके पर डीडीसी रवि प्रकाश, एसडीएम मनोज कुमार चौधरी, बीडीओ राकेश कुमार, सीओ स्वाती कृष्णा, थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय, इंस्पेक्टर सुबोध कुमार राव आदि उपस्थित थे।

व्यापार मंडल के राइस मिल में लगी आग, दमकल ने आग पर पाया काबू

अमरपुर (बांका)। निज संवाददाता

अमरपुर के व्यापार मंडल परिसर में बने राइस मिल में सोमवार को दोपहर बाद अचानक आग लग गई। राइस मिल से धुआं उठता देख स्थानीय लोगों ने हल्ला करना शुरू कर दिया तथा इसकी सूचना व्यापार मंडल अध्यक्ष सुभाष कुमार कानोडिया को दी। उन्होंने घटना की सूचना अधिकारियों को दी। बांका से दमकल आने के बाद काफी प्रयास करने पर आग पर काबू पाया जा सका। व्यापार मंडल अध्यक्ष कानोडिया ने बताया कि आग कैसे लगी इसकी जानकारी नहीं मिल सकी। उन्होंने कहा कि अध्यक्ष पद का चुनाव जीतने के बाद उन्हें आज तक व्यापार मंडल का प्रभार नहीं मिला। राइस मिल पिछले कई वर्षों से सील है। मिल के अंदर क्या है इसकी भी जानकारी उन्हें नहीं है। इसलिए आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका।

डायन का आरोप लगा की पिटाई

धोरैया (बांका)। हिटी

धनकुण्ड थाना क्षेत्र के अटपहरा गांव में एक महिला को डायन कहकर मारपीट किये जाने को लेकर महिला ने थाना में आवेदन देते हुए गांव के ही संतोष दास व उसकी पत्नी बबीता देवी पर प्राथमिकी दर्ज कराया। दिये आवेदन में आरोप लगाया है कि रविवार की शाम जब उसके पति घर में नहीं थे, उक्त दोनों ने डायन का आरोप लगाते हुए मारपीट करने लगे। जबकि इसके पूर्व भी इन दोनो के द्वारा डायन का आरोप लगाते हुए मारपीट किया गया था लेकिन तब समाजिक स्तर पर गांव में ही पंचायत बिठाकर मामले का निदान कर लिया गया था। इस बाबत थानाध्यक्ष अभिनंदन कुमार सिंह ने बताया कि आरोपी संतोष दास को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

पंजवारा में चेक पोस्ट पर तैनात हुई स्वास्थ्य विभाग की टीम

पंजवारा(बांका)। निज प्रतिनिधि

पंजवारा स्थित उत्पाद विभाग के चेक पोस्ट पर सोमवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा कर्मियों की एक टीम कोरोना जांच हेतु नियुक्त की गई है। बाराहाट स्वास्थ्य केंद्र के प्रबंधक अवध किशोर श्यामला ने बताया की स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा झारखंड से बिहार की सीमा में प्रवेश करने वाले सभी यात्रियों की पंजवारा चेक पोस्ट पर एंटीजन किट द्वारा जांच की जाएगी। इसकी शुरुआत सोमवार से की गई है। पहले दिन स्वास्थ्य कर्मियों ने 144 लोगों की जांच की। जिसमें सभी की जांच रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई। चेक पोस्ट पर तैनात कर्मियों में बीसीओ राजेश राज,एएनएम रीता झा,एमडब्लूए संजय कुमार एवं सिरोधन कुमार मौजूद थे।

फोटो नंबर-पंजवारा 22 चेक पोस्ट पर कोरोना जांच हेतु नियुक्त की गई स्वास्थ्य विभाग की टीम

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें