DA Image
24 जनवरी, 2021|1:47|IST

अगली स्टोरी

बदुआ नदी का तटबंध टूटा, गांव में घुसा पानी

default image

प्रखंड क्षेत्र में लगातार एक सप्ताह से हो रही मूसलाधार बारिश से शंभूगंंज खेसर पथ में बरौथा गांव के पास लोहागढ़ नदी का पानी सड़क पार करने को बेताब है। वहीं बदुआ नदी का जलस्तर बढ़ जाने से चंद्रपुर बग्घा गांव के पास नदी का तटबंध टूट जाने से गांव में नदी का पानी प्रवेश कर गया है। जिससे गांव के लोग रतजगा को मजबूर हैं। मूसलाधार बारिश के कारण कल तक प्यासी रहने वाली नदी भी उफान मार रही है। जिसके कारण उफनाई नदियों का पानी कई गांवों व सड़कों पर फैल गया है। जानकारी के अनुसार शंभूगंज प्रखंड क्षेत्र से होकर गुजरने वाली बदुआ, गैढ़ा, लोहागढ़, कलिया, धमना सहित अन्य छोटी-छोटी नदियों का जलस्तर काफी बढ़ गया है। जिससे गांव के अस्तित्व पर खतरे का बादल मंडराने लगा है। कलिया धमना नदी में पानी के उफान से पड़रिया, भिट्ठी, मोहनपुर, कामतपुर, कुन्था, पहलानपुर, कुन्नथ आदि गांव में पानी फैल गया है तो वही लोहागढ़ नदी की उफनाई पानी बरौथा, करंजा, करहरिया आदि गांव में फैल गया है। नदियों में बढ़ते पानी के दबाब से यहां के लोगों में बाढ़ की आशंका का डर सता लगा है। दौना, लौगांय सहित कई गांवों में घुसा नदी का पानी अमरपुर (बांका)। अमरपुर में पिछले छह दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश के बाद कई गांवों में बारिश एवं नदी का पानी घुसने लगा है। दौना गांव के सकलैन ने बताया कि बारिश के पानी से पहले ही गांव के लोग परेशान थे, अब अहिमा डांड, बड़ी बांध समेत अन्य जगहों का पानी भी उनके गांव में प्रवेश कर गया है। उन्होंने कहा कि गांव में घुसे पानी को देख वर्ष 95 में आई बाढ़ की याद दिला दी है। मेढियानाथ के निकट यदि डायवर्सन टूटता है तो गांव में और ज्यादा पानी आने की संभावना है। इसी तरह लौगांय गांव भी चारों ओर पानी से घिर गया है। ग्रामीण ब्रजेश कुमार ने बताया कि गांव के अंदर भी घरों में पानी प्रवेश कर गया है, जिससे बाढ़ की स्थिति बनती दिख रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Badua river embankment broken water enters village