DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सफाई पर 4.70 लाख खर्च, फिर भी डूबा शहर

सफाई पर 4.70 लाख खर्च, फिर भी डूबा शहर

शहर को जलजमाव से मुक्ति दिलाने की नप प्रशासन ने भरपूर कोशिश की। इसके लिए बरसात पूर्व नाला की सफाई की गयी। इस पर करीब 4.70 लाख रुपया की राशि खर्च की गयी। यह सफाई कार्य लगभग दो माह चला। जैसे ही शहर के मुख्य व शाखा नालों की सफाई का काम पूरा हुआ, बरसात ने भी अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। पहली बरसात ने ही नाला सफाई पर खर्च की गयी राशि की पोल खोल दी।

बरसात के पानी से पूरा शहर लबालब हो गया। बारिश ने नाला व सड़क का फर्क मिटा दिया। ऐसे में नालों की सफाई पर की गयी खर्च की गयी राशि पर नगरवासी उंगली उठाने लगे हैं। लोगों का कहना है कि नाले की सफाई हुई तो पानी निकल क्यों नहीं रहा है। कई मोहल्लों में दो-दो सप्ताह से जलजमाव है, लेकिन नगर परिषद सुधि नहीं ले रहा है। इससे लोगों की परेशानी बढ़ती ही जा रही है। शहर के खुदाबख्श चौक, विश्वामित्र मार्केट रोड, जनता सिनेमा चौक, अस्पताल रोड आदि जगह पर अभी भी पानी बरकरार है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Spent Rs 4.70 lakh on cleanliness, yet submerged city