Live Hindustan आपको पुश नोटिफिकेशन भेजना शुरू करना चाहता है। कृपया, Allow करें।

स्वर्ण व्यवसायी के पुत्र का अपहरण, 20 लाख की मांगी फिरौती

बेतिया/कुमारबाग। कुमारबाग ओपी क्षेत्र के रानीपुर रमपुरवा के स्वर्ण व्यवसायी नगनारायण साह के पुत्र...

offline
स्वर्ण व्यवसायी के पुत्र का अपहरण, 20 लाख की मांगी फिरौती
Newswrap हिन्दुस्तान टीम , बगहा
Thu, 12 Oct 2023 10:10 PM
अगला लेख

बेतिया/कुमारबाग। कुमारबाग ओपी क्षेत्र के रानीपुर रमपुरवा के स्वर्ण व्यवसायी नगनारायण साह के पुत्र आशीष कुमार (14) का बुधवार को अपराधियों ने अगवा कर लिया। वह कुमारबाग इंटरस्तरीय स्कूल में पढ़ने गया था। छुट्टी के बाद घर नहीं लौटा तब परिजन उसे ढूंढते हुए स्कूल पहुंचे। यहां उसका बैग व साइकिल मिली। शाम सात बजे अपहरणकर्ताओं ने स्वर्ण व्यवसायी को फोन कर 20 लाख रुपये की फिरौती मांगी। गुरुवार दोपहर 12 बजे तक रुपये तैयार रखने को कहा। घटना की जानकारी किसी को देने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दी। गुरुवार को पिता की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई। एसपी डी अमरकेश खुद मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। एसडीपीओ माहताब आलम ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मामले में जल्द रिजल्ट मिलेगा। इधर, पुलिस का कहना है कि बुधवार दोपहर करीब डेढ़ बजे छात्र स्कूल की बाउंड्री फांदकर गायब हुआ था। पुलिस हर बिंदु पर मामले की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार, आशीष बुधवार को स्कूल गया था। घर लौटने पर स्कूल पहुंचे परिजनों को छात्रों से पूछताछ में कोई खास जानकारी नहीं मिली। शाम करीब सात बजे अपराधियों ने उसके पिता को फोन कर कहा कि आपका बेटा सुरक्षित है। 20 लाख रुपये गुरुवार 12 बजे तक तैयार रखो। रुपये का इंतजाम हो जाने पर बताना, तब बताया जाएगा कि रकम कहां पहुंचानी है। कुछ ही घंटे के अंतराल पर अपहरणकर्ताओं ने व्यवसायी को चार बार फोन कर धमकी दी। इससे परिवार के लोग खौफजदा हो गये। परिजनों ने डरते हुए इसकी सूचना कुमारबाग ओपी पुलिस को दी। छात्र के अपहरण की जानकारी फैलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। जिले से लेकर कुमारबाग ओपी तक की पुलिस सक्रिय हो गई। फिरौती की रकम मांगने वाले सिम की जांच की गई तो, वह मनुआपुल ओपी क्षेत्र के शेख धुरवा के ताहिर हुसैन के नाम का निकला। एसडीपीओ माहताब आलम के नेतृत्व में कई थाने की पुलिस ने रात भर शेखधुरवा, राय धुरवा, रानीपुर रामपुरवा, साठी, मेहदियाबारी, हरिवाटिका चौक आदि जगहों पर छापेमारी की। हालांकि, ताहिर पुलिस के कब्जे में नहीं आ सका। गुरुवार सुबह एसपी डी. अमरकेश कुमारबाग ओपी पहुंचे और आशीष के पिता से पूछताछ की। मामले में पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। आशीष के पिता नगनारायण साह की बेतिया के बानुछापर में सोने-चांदी की दुकान है। आशीष दो भाइयों में बड़ा है। छठ पर्व के तीन दिन बाद उसकी बहन की शादी होनी है। आशीष के पिता ने बताया कि उनकी किसी से अदावत नहीं है।

कहां से लाऊं 20 लाख, कैसे बचाऊं बेटे को:

नगनारायण साह बेटे के अपहरण से व्याकुल हो गये हैं। उनके साथ परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है। पड़ोसी-रिश्तेदार उन्हें ढांढस बंधा रहे हैं। वे रोते-रोते कहते हैं कहां से लाऊं 20 लाख रुपये, कैसे बेटे को बचाऊं। इतने रुपये तो मेरे पास है भी नहीं। लोगों के ढांढस बंधाने पर वे पुलिस पर विश्वास होने की बात कहते हैं। कहते हैं कि अब पुलिस ही मेरे बेटे को वापस ला सकती है।

फोन की घंटी बजते ही पसीने से तर हो जाते व्यवसायी:

नगनारायण साह के घर में कोई भी फोन की घंटी बजती है तो लोग पसीने से तर-ब-तर हो जाते हैं। परिजनों का लगता है कि अपहरणकर्ताओं का ही फोन है। वे फिर से रुपये के लिए कहेंगे तो क्या जवाब देंगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हमें फॉलो करें
ऐप पर पढ़ें

बिहार की अगली ख़बर पढ़ें
Bagaha News Bagaha Latest News Bihar News Bihar Latest News
होमफोटोशॉर्ट वीडियोफटाफट खबरेंएजुकेशनट्रेंडिंग ख़बरें