DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजादी में चंपारण की अहम भूमिका

default image

73वें स्वतंत्रता दिवस पर पश्चिम चंपारण के कोने-कोने में राष्ट्रीय ध्वजारोहण का समारोह गुरुवार को आयोजित हुआ। मुख्य समारोह नगर के महाराजा स्टेडियम में आयोजित किया गया। जहां डीएम डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे ने झंडोत्तोलन किया। डीएम ने कहा कि देश की आजादी की लड़ाई में चम्पारण सत्याग्रह व जिले अनेक सेनानियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा। सभी को अपनी-अपनी जिम्मेदारियों का ईमानदारी से निर्वहन करना है। जन जीवन हरियाली अभियान के तहत जिले भर में पांच लाख पेड़-पौधे लगाने के लक्ष्य की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि प्रकृति के अनुरूप वन व खनिज संपदा के साथ अपने पर्यावरण को आज नहीं बचाया गया तो कल बहुत देर हो जाएगी। उधर चंपारण रेंज के डीआईजी गोपाल प्रसाद ने अपने कार्यालय परिसर में ध्वजारोहण किया। जबकि व्यवहार न्यायालय परिसर में जिला व सत्र न्यायाधीश अभिमन्यु लाल श्रीवास्तव ने तिरंगा फहरा कर सलामी दी। मौके पर व्यवहार न्यायालय के सभी न्यायाधीश व कर्मी मौजूद थे। विधिक संघ ने भी झंडातोलन किया। संघ के अध्यक्ष ऐगेन्द्र मिश्र, सचिव किशोरी लाल सिकारिया समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे। महिला थाने में थानाध्यक्ष पूनम कुमारी के नेतृत्व में झंडा फहराया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Champaran s important role in independence