अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सही जवाब नहीं मिलने पर बिफरे डीईओ

सही जवाब नहीं मिलने पर बिफरे डीईओ

जिला शिक्षा पदाधिकारी हरेंद्र झा ने मोतीलाल हाई स्कूल मझौलिया का औचक निरीक्षण किया। शिक्षकों की उपस्थिति और गुणवत्ता की जांच की। छात्रवृत्ति योजना ,सीएम किशोरी स्वास्थ्य योजना की लंबित फाइल को बारीकी से परखा। जांचोपरांत श्री झा ने बताया कि स्टेट बैंक की मझौलिया शाखा में भुगतान के लिए भेजी गयी फाइल विगत पांच महीनों से लंबित है।

उन्होंने बताया कि 23 अप्रैल को 225 छात्राओं और 243 छात्रों का बैंक एडवाइस बैंक को भेजा गया, परंतु अब तक भुगतान नहीं किया गया।उन्होंने एसबीआई प्रबंधन पर असहयोग का आरोप लगाया। उन्होंने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए बैंक प्रबंधक से बात की। बैंक प्रबंधक ने खोले गये खाता में कतिपय गड़बड़ी की बात कही। इसपर डीईओ ने कहा कि जो खाता चालू है उस खाते में राशि स्थानांतरित किया जाये। फाइल जांच के बाद डीईओ ने कक्षा का निरीक्षण किया।छात्राओं से कई सवाल किये।डीईओ को अपने बीच पाकर छात्राएं उत्साहित नजर आये। फोर्टी का स्पेलिंग में दसवी की एक छात्रा द्वारा यू का उपयोग करने पर उसे गलत करार दिया तथा उसे बड़े ही प्यार से समझाया कि फोर्टी में यू नहीं होता। उन्होंने छात्राओं को कड़ी मेहनत और लगन के साथ पढ़ने की नसीहत दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bifera DEO not getting the right answer