DA Image
25 सितम्बर, 2020|7:22|IST

अगली स्टोरी

राजनीतिक प्रतिद्वंदिता में बनाया हत्यारोपित: सभापति

default image

हत्या की साजिश से आरोप मुक्त होते ही नगर परिषद सभापति गरिमा सिकारिया पति रोहित सिकारिया संग काशी विश्वनाथ की शरण में पहुंची। मंगलवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति में सभापति ने कहा कि वे पति संग सप्तऋषि आरती में शामिल हुई। इधर, सोशल मीडिया पर पोस्ट के माध्यम से सभापति ने कहा कि हत्याकांड के साजिशकर्ता के रूप में उन्हें पति के साथ फंसाया गया था। जबकि मैं गरीब, जरूरतमंद व पीड़ितों की सेवा के लिए हमेशा आगे रही हूं।

राजनीतिक प्रतिद्वंदिता में मुझे फंसाया गया था। देवो के देव महादेव ने मेरी प्रार्थना सुनी, सच सामने आया। सभापति एसपी निताशा गुड़िया व उनकी स्पेशल टीम को धन्यवाद दिया। कहा कि सात दिन की अथक कार्रवाई के कारण मामले का खुलसा हुआ। एसपी व उनकी जांबाज टीम के कठिन पुलिसिंग की उपलब्धि ने मुझे मेरे परिवार व शुभचिंतकों को फिर से मुस्कुराने का मौका दिया। पोस्ट के बाद मिले हजारों लाइक मेरे लिए आशीर्वाद की तरह है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Assassinated made in political rivalry Chairman