DA Image
25 सितम्बर, 2020|1:36|IST

अगली स्टोरी

दलित उत्पीड़न के दोषियों को गिरफ्तार करें : माले

default image

खेग्रामस एवं भाकपा-माले कार्यकर्ताओं ने सोमवार को प्रखंड एवं अंचल कार्यालय पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए जिला सचिव कामरेड मुख्तार मियां ने कहा कि केन्द्र सरकार के लॉकडाउन ने गरीबों के जीवन को तबाह कर दिया है। वहीं नरकटियागंज अनुमंडल में भू माफियों का अत्याचार काफी बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि गरीबों को पांच पांच डिसमिल आवासीय जमीन देने की घोषणा गरीबों को मूर्ख बनाने वाली घोषणा साबित हुई है।

माले की ओर से मजदूरों को दस हजार रुपये प्रतिमाह गुजारा भत्ता देने, स्वयं सहायता समूहों का कर्ज माफ करने, मनरेगा में 200 दिन काम और पांच सौ रुपये मजदूरी देने, सभी बेरोजगारों के रोजगार देने की व्यवस्था करने, राशन कार्ड से वंचित सभी गरीबों को राशन कार्ड देने, सभी आवास भूमि विहीन गरीबों को पांच डिसमिल आवासीय जमीन देने व अन्य मांगों को लेकर बीडीओ व सीओ को ज्ञापन सौंपा। कार्यक्रम में मु गायत्री, कलावती देवी, मंजू देवी, पारस राम, ध्रुप राम, नजरेआलम, शुरेश राम थे।

माले कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन:गौनाहा।भाकपा माल के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को प्रखंड मुख्यालय के समक्ष अपनी मांगों के समर्थन में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में शामिल राम केश्वर राम,नंदकिशोर महतो,लक्ष्मण राम, रमाशंकर महतो,भीषण महतो,सरोज देवी, ललिता देवी,सुग्रीव राम,लाल बहादुर मांझी,लालबिहरी मांझी,महेश राम, मदन चौधरी ने कहा कि सरकार मजदूरों की बदहाली दूर करते हुए रोजी-रोटी की व्यवस्था करें। माले की ओर से बीडीओ को एक ज्ञापन दिया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Arrest the culprits of Dalit oppression Male