DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बगहा में पोरबंदर एक्सप्रेस से 21 बाल मजदूर मुक्त

एसडीएम घनश्याम मीणा के नेतृत्व में एसएसबी व स्थानीय पुलिस ने बगहा स्टेशन पर पोरबंदर एक्सप्रेस से 21 बाल मजूदरों को मुक्त कराया।

हालांकि इस दौरान इन बाल मजदूरों को ले जा रहे व्यक्ति की गिरफ्तारी नही हो सकी। एसडीएम ने बताया कि सूचना मिली थी कि पोरबंदर एक्सप्रेस से नाबालिग बच्चों को कार्य कराने के लिए बाहर ले जाया जा रहा है।

सूचाना पर कारवाई करते हुए सोमवार की देर शाम बगहा रेलवे स्टेशन पर एसएसबी व स्थानीय पुलिस के सहयोग से पोरबंदर एक्सप्रेस में छापेमारी की गई। छापेमारी में बाहर जा रहें 21 बाल मजदूरों को मुक्त कराया गया। ये सभी नाबालिग विभिन्न जिलों के है। इन नाबालिगों को कई तरह के प्रलोभन देकर बाहर मजदूरी के लिए ले जाया जा रहा था। इन सभी नाबालिगों को पठखौली पुलिस के जिम्में सौंप दिया गया।

इधर पठखौली ओपी राजेश कुमार ने बताया कि पोरबंदर एक्सप्रेस से मुक्त कराए गए सभी बाल मजूदरों को चाइल्ड लाइन उपकेन्द्र नरकटियागंज के समन्यवक अरविन्द पाण्डेय को सुपूर्द कर दिया गया। पठखौली प्रभारी ने बताया कि मुक्त कराए गए सभी बाल मजदूर विभिन्न जिलों के है। बाल बजदूरों को ले जा रहे व्यक्ति की तलाश की जा रही है। पकड़े जाने पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। मुक्त कराए गए सभी बाल मजदूर समस्तीपुर, मोतीहारी,पश्चिमी चम्पारण, मोतिहारी, सीतामढी, दरभंगा, मुजफ्फर के रहने वाले है।कार्रवाई के लिए चाइल्ड लाइन नरकटियागंज को सुपूर्द कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:21 child laborers free from Porbandar express in Bagaha