DA Image
28 दिसंबर, 2020|11:31|IST

अगली स्टोरी

15वें वित्त आयोग की राशि खर्च की बनी सहमति

15वें वित्त आयोग की राशि खर्च की बनी सहमति

बेतिया | बेतिया प्रतिनिधि

जिला परिषद के सामान्य बैठक में विकास का मुद्दा छाया रहा। सर्वसम्मति से 15वें वित्त आयोग की राशि को खर्च करने की बनी सहमति। हालांकि बैठक में नए कृषि बिल को लेकर सिकटा विधायक वीरेंद्र गुप्ता ने सवाल खड़े किए।

अध्यक्षता जिला परिषद के अध्यक्ष शैलेंद्र गढ़वाल ने की।पार्षद सरफुद्दीन उर्फ ट्रेनी ने आरडब्ल्यू डी द्वारा जिले में कराए जा रहे सड़क निर्माण की गुणवत्ता पर सवाल किया। वही बिजली विभाग के द्वारा समय से ट्रांसफार्मर नहीं लगाने व मीटर रीडिंग में धांधली का आरोप लगाया। उन्होंने जिला परिषद की आय बढ़ाने के लिए जिला परिषद के जमीन से अतिक्रमण हटाने के साथ-साथ दुकान निर्माण की मांग रखी। पार्षद विनय शाही, राजेश कुमार चौरसिया, नाजिया बेगम, अखिलेश्वर प्रसाद गुप्ता, अजय कुशवाहा ने विकास कार्यों में तेजी लाने का आह्वान किया। जिला परिषद अध्यक्ष शैलेंद्र गढ़वाल ने कहा कि जनहित में फैसले लेने हमारा दायित्व है। विकास कार्यों के सही क्रियान्वयन में हमारी सहभागिता होनी चाहिए। सामान्य बैठक में चनपटिया विधायक उमाकांत सिंह, नौतन विधायक नारायण शाह ने जिला परिषद को सशक्त बनाने के लिए विधानसभा में मुद्दा उठाने की बात कही। वही माले विधायक वीरेंद्र गुप्ता ने केंद्र की नया कृषि बिल को किसानों के लिए काला बिल बताया। बैठक में डीआरडीए निदेशक राजेश कुमार सिंह, जिला कृषि पदाधिकारी विजय प्रकाश, कार्यपालक अभियंता राजेंद्र प्रसाद राम, पूर्व जिप अध्यक्ष अमर यादव, कनीय अभियंता दीपक कुमार, बेतिया प्रमुख गीता यादव आदि ने अपनी मांगों को प्रमुखता से रखा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:15 Finance Commission agreed to spend money